दामाद ने सास को चोदा किचन में साडी उठाकर

Indian saas sex with damad sex story : ये मेरी कहानी है, मेरी सेक्स कहानी, मैं ही सास हु, मैं भेजी हूँ ये कहानी नॉनवेजस्टोरी डॉट कॉम. पर आज मैं आपको अपनी पूरी कहानी बताउंगी कैसे कैसे क्या क्या हुआ था उस दिन कैसे दामाद ने मुझे चोद दिया था और मैं कुछ भी नहीं कर पाई। अब मेरी बेटी को ये बात पता चलेगा तो वो क्या कहेगी। सबसे बड़ी बात तो ये है ये पिछले महीने की बात है और इस महीने मेरा मेंस यानी माहवारी भी नहीं आई है। अब क्या होगा पता नहीं। इसलिए मैं अपना मन हल्का कर रही हूँ।


मेरी बेटी की शादी हुए अभी मात्र 2 महीने हुआ है। वो लव मैरिज की है। मेरे पति नहीं है एक ही बेटी है। ग़ाज़ियाबाद में रहती हूँ। मेरा अपना फ्लैट है। मेरा दामाद दिल्ली में पढाई करता था अब उससे सरकारी नौकरी मिल गई है। वो भी ग़ाज़ियाबाद में। पहले तो वो किराये पर रहता था। पर अभी शादी के बाद से वो अब हमलोगों के साथ ही रहेगा.


पर बात चुदाई की है उसने कैसे की चुदाई मेरी वही बताने जा रही हूँ।


दोस्तों शादी के पहले से ही वो घर आता जाता था। काफी मिलनसार था। माँ की तरह मानता है। बहुत अच्छा स्वाभाव का है, इसलिए मैं बहुत ही जल्दी उसको अपने मन में बैठा ली कभी लगा ही नहीं की मेरे से अभी हाल की जान पहचान है। इसलिए वो मुझसे काफी हिल-मिल गया था। और जब से शादी हुई है तब से वो और भी ज्यादा दुलार बनने लगा है।

जब भी कही बैठती थी वो निचे लेट जाता था मेरी गोद में सर रख देखा था। और सहलाने कहता था। मेरी बेटी को भी ये सब अच्छा ही लगता था वो कहती थी देख माँ तेरा लाडला आ गया है। पर उस दिन तो गजब हो गया दोस्तों जिस दिन मेरी चुदाई उसने की थी।


मेरी बेटी एक ऑफिस में काम करती है वह की वो मार्केटिंग मैनेजर है। काफी अच्छी सैलरी है रुतवा है। कंपनी के काफी फैसिलिटी दी है उससे इस वजह से काम भी उससे ज्यादा ही करना पड़ता है। एक दिन वो सुबह ही ऑफिस के लिए तैयार हो गई और आठ बजे ही वो ऑफिस चली गई। दामाद का नाम राज है। तो राज लेट उठा था करीब नौ बजे। वो सोकर बाहर आया और मैं किचन में काम कर रही थी। वो आकर मुझे पीछे से पकड़ लिया मैं उस समय रोटी बना रही थी। वो आकर पीछे से पकड़ लिया और कहने लगा मम्मी जी आप इतना काम क्यों करते हो। तो मैं बोली क्यों आज मेरी छुट्टी है क्या? आज तेरी छुट्टी है पर मेरी नहीं।

कामुक और हॉट सेक्स कहानी  कल रात मुझे और मेरी छोटी बेटी को चोदा मेरा दामाद जानिए कैसे

और मैं रोटी बेलती रही, फिर वो अपना सर मेरे कंधे पर रख दिया और बोला मम्मी जी आप बहुत ही ज्यादा अच्छी माँ हो। तो मैं बोली वो तो मैं हूँ ही। फिर वो बोला आप बहुत ही हॉट और सेक्सी हो। तो मैं बोली अड़तीस साल की हो गई हूँ। अब हॉट और सेक्सी नहीं हूँ। तो वो बोला नहीं नहीं आप बहुत ही ज्यादा सेक्सी हो। और धीरे धीरे वो मेरी चूतड़ में सट गया। और धीरे धीरे उसका लौड़ा खड़ा हो गया जो मुझे महसूस हो रहा था।

पहले तो मुझे अच्छा नहीं लगा था। पर एक जवान लड़के का लंड सटटे ही मेरे बदन में भी हलचल होने लगी। मैं बोली क्यों राधिका खुश नहीं करती है क्या ? वो बोला वो तो मेरी बीवी है रोजाना एक ही चीज को खाकर बोर हो गया हूँ। तो मैं बोली मारूंगी ऐसा बोलेगा तो। वो तुम्हारी बीवी है। तो वो बोला मैं तो मजाक कर रहा था। वो बहुत ही अच्छी है।

और फिर मेरा पेट पकड़ लिया पीछे से आगे हाथ करते हुए धीरे धीरे वो मेरी बूब पर आ गया मैं कुछ नहीं बोल पाई। क्यों की ये सब अच्छा लग रहा था मुझे। पति को गए हुए दस साल हो गए हैं। तो आप खुद सोचिये एक महिला जो जवान है और उसको लंड नहीं मिले तो क्या हाल होगा। वही मेरे साथ ही हुआ जब मुझे वो पकड़ा तो मैं अपने आप को संभाल नहीं पाई। और लम्बी साँसे लेने लगी। मैं रोटी बना छोड़ दी और उसके हाथ पर अपना हाथ रख थी उस समय उसका हाथ मेरी बूब पर था।

कामुक और हॉट सेक्स कहानी  Damad aur Saas ki Sex Kahani

वो समझ गया गया की मैं तैयार हो गई। उसने अब मेरी बूब को दबाना शुरू कर दिया। और पीछे से अपना लंड रगड़ना। मैं वैसे ही कड़ी रही और फिर रसोई का स्लैप पकड़ कर झुक गई। क्यों की मैं कामुक हो गई थी। उसके बाद वो मेरी साडी और पेटीकोट ऊपर कर दिया बड़ी सी चौड़ी गांड देखकर वो पागल हो गया वो बोला वाओ मम्मी जी। गजब और वो पहले मेरी चूतड़ को खूब चूमा और फिर मेरी पेंटी निचे कर दिया और मैं फिर पेंटी उतार दी। वैसे ही झुकी थी। तभी उसने अपना लौड़ा निकाला और मुझे और थोड़ा झुकने बोला

और चूत पर अपना लंड सेट कर चूतड़ पकड़ कर जोर से घुसा दिया। उसने कहा बहुत टाइट है आपकी चूत जैसे की आपकी बेटी की है। तो मैं बोली चुदे हुए दस साल हो गया है। इसलिए फिर से अपनी पॉजिसन में आ गया है इसलिए टाइट है। और वो अपना लौड़ा अंदर बहार करने लगा। मैं हौले हौले से धक्के देने लगी। वो रह रह कर मेरी चूतड़ पर थप्पड़ मारता और जोर जोर से लंड घुसाता। मेरी मुँह से आ आ आह आह आह आह उफ़ उफ़ उफ़ ओह्ह ओह्ह की आवाज निकलने लगी।


अब मैं खुल कर चुदना चाहती थी। आराम से लेट कर पुरे कपडे उतार कर। किचेन में वो मेरी साडी उठाकर करीब 15 मिनट तक चोदा फिर मैं बोली चलो बेडरूम में। हम दोनों बैडरूम में गए मैं अपना सारा कपड़ा उतार दी उसने भी बरमुंडा और जांघिया खोल दिया। और मैं लेट गई बेड पर वो मेरी चूचियों को पिने लगा। दबाने लगा मेरी निप्पल को दांत से काटने लगा। मैं मदहोश होने लगी। फिर वो निचे गया मेरी पैरों के बिच में बैठकर चूत चाटने लगा। मैं टांग अपना उसके दोनों कंधे पर रख दी वो मेरी चूत चाटने लगा।

कामुक और हॉट सेक्स कहानी  ना ना करते हुए भी दिवाली पे दामाद ने मुझे जमकर चोदा

मैं उसके बाल पकड़पर अपने चूत में उसके फेस को रगड़ने लगी। अब मैं पूरी तरह से गरम हो गई थी। अब सिर्फ लंड चाहिए था वो भी जोर जोर से। वो अपना लंड मेरी छूट में घुसाया और मेरी चूचियों को मसल मसल कर जोर जोर से लंड मेरी चुत में घुसाने लगा। मैं काफी ज्यादा कामुक हो गई थी। मैं जोर जोर से आह आह आह करने लगी और वो जोर जोर से चोदने लगा।

उसके बाद मैंने उसको निचे की और मैं ऊपर जाकर उसके लंड को अपनी चुत में लेकर बैठ गई। पूरा लंड सटाक सा अंदर चला गया अब मैं जोर जोर से धक्के देने लगी फच फच फच की आवाज पुरे कमरे में गुज रही थी। वो मेरी चूचियां मसल रहा था। जोर जोर से ले रहा था। दोस्तों करीब तो मुझे दो घंटे तक चोदा और मैं खुलकर चुदी ऐसा तो अपने पति के साथ भी कभी नहीं चुदी थी जैसा उस दिन चुदी।

फिर क्या था आगे से पीछे से घोड़ी बनकर लेट कर बैठकर जो मन में मेरे आया और उसके आया सभी पोज का इस्तेमाल किया। और फिर हम दोनों एक साथ बाथरूम में नहाने चले गए।

उस दिन के बाद से हम दोनों रोजाना चुदाई करते है। पर एक गलती हो गई है। मैं आजतक बिना कंडोम के ही चुदवाई हूँ तो इस महीने मेरा पीरियड मिस हो गया है। लगता है मैं पेट से हूँ। अब देखिये आगे क्या होता है। मैं आपको फिर से अपनी बात इस वेबसाइट पर बताउंगी। मैं नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम की बड़ी फैन हूँ।