पति ने मुझे अपने भाई से सेक्स सम्बन्ध बनाने के लिए मजबूर किया

loading...

Brother Sister Sex, Sex Khanai Bhai Behn ki, Bhai Bahan ki Chudai, Sex Story Brother sister, Goa Sex, Goa Sex Story, Hindi Sex Kahani,

loading...

मेरा नाम माधुरी मेरी उम्र 24 साल है आज मैं आपको अपनी एक कहानी सुनाने जा रही हूं यह कहानी थोड़ा अटपटा सा आपको जरूर लगेगा इसका कारण यह है मेरे पति ने ही मेरे छोटे भाई को यह परमिशन दिया कि आप अपनी बहन को मां बनाओ मैं चाहता हूं कि आपकी माधुरी के साथ सेक्स करो और प्रेग्नेंट करो क्योंकि डॉक्टर ने कहा  कहा कि आप बाप नहीं बन सकते। अगर आप चाहते हो आपकी बहन खुश रहे तो आपको यह काम करना।


भाई  के लिए अजीब सी बात थी कोई अपनी बहन के साथ कैसे सेक्स कर सकता है कैसे उसको प्रेग्नेंट कर सकता है कैसे उसके बच्चे का बाप बन सकता है.  मुझे भी समझाया गया कोई बात नहीं देखो माधुरी अगर तुम चाहती हो हमारी जिंदगी सही से रहे मैं तो प्यार तुम्हें बहुत करता हूं पर यह सुख नहीं दे पाने के कारण यह मुझे करना पड़ रहा है नहीं तो कौन ऐसा पति होगा जो अपनी पत्नी से यह कहेगा आप सोचो आप मेरी भावनाओं को समझो और उसके को थोड़ा सा ताक  पर रखो। जिंदगी में बहुत खुशियां आएगी बस एक थोड़ा सा गलत काम करना पड़ेगा।

 मैं बोली ठीक है मैं अपने भाई से बात करूंगी और अपनी मां से भी बात करूंगी पर उन्होंने मां से बात करने के लिए मना कर दिया बोला कि यह बात हम तीनों के बीच रहेगा मैं भी सोचा चलो ठीक बोल रहे हैं जिंदगी काटने के लिए कुछ अच्छा करने के लिए गलत कदम भी उठाना पड़े तो कोई बात नहीं हमने अपने छोटे भाई से बात किया वह मान गया.

 अब मैं इस कहानी के माध्यम से आपको पूरी घटना बताएं भाई होते हुए भी इस तरह से सेक्स  किया 4 दिन तक हम दोनों कैसे एक होटल में रहे और कैसे वह मेरी चुदाई किया। मेरे पति ने हम दोनों के लिए गोवा में एक होटल बुक करवाया फ्लाइट की टिकट दी और ₹50000  दिए और बोले तो जाओ तुम ऐश करो.

 हम लोग सुबह इंडिगो की फ्लाइट से दिल्ली से गोवा के लिए रवाना हो गए गोवा करें दिन में 2:00 बजे पहुंच रहे थे हम दोनों का कमरा बड़ा ही स्पेशलिस्ट था क्योंकि यह कमरा हनीमून पैकेज के लिए बुक कराया गया था जाते ही कमरे में देखें पूरा बेड सजा हुआ था।  होटल वाले समझ रहे थे कि हम दोनों पति-पत्नी है। 

मेरा भाई थोड़ा शर्मीला उसे थोड़ी हिचकिचाहट हो रही थी पर मैंने उसके हिचकिचाहट को दूर की और बोली यह मेरी जिंदगी का सवाल है अगर तुमने मुझे प्रेग्नेंट नहीं किया तो शायद तुम्हारी बहन वापस ससुराल नहीं जाएगी हो सकता है मेरा पति मुझे छोड़ दे क्योंकि कुछ ना कुछ कारण रहा। नहीं तो कौन ऐसा होगा कि अपने पत्नी को किसी गैर  पुरुष को शेयर करेगा। उसकी हिचकिचाहट थोड़ी कम हुई और वह अब पति की तरह बिहेव करने लगा पहले वह मुझे कसकर अपनी बाहों में भर लिया मेरे होंठ को तुमने लगा अभी भी वह मेरे प्राइवेट पार्ट को छूने सहलाने और दबाने से इश्क जा रहा था मैंने उसका हाथ पकड़ कर अपने बूब पर रख दिया। वह मेरे बूब को धीरे धीरे दबाने लगा उसका लंड खड़ा होने लगा और फिर मेरे होंठ चूसने लगा मैं भी वाइल्ड होने लगी और भरपूर साथ दिया मैंने उसके होंठों को चूसने लगे उसके लंड  को सहलाने लगी। यहीं से शुरुआत हुआ मेरे और मेरे भाई के बीच प्रेम प्रसंग और चुदाई का.

 अपने भाई से बोली पहले हम दोनों अच्छे से नहा लेते हैं उसके बाद एक नई जिंदगी की शुरुआत करते हैं हम दोनों ही एक साथ बाथरूम में गए हम दोनों ने एक दूसरे के कपड़े खुले कपड़े खोलते ही बाथरूम के अंदर का माहौल अलग हो गया हम दोनों एक दूसरे के प्राइवेट पार्ट को निहारने लगे अचानक वह मेरे बूब टूट पड़ा।  वह दबाने लगा मेरे निप्पल को चूसने लगा। मैं उसके बालों को पकड़ कर अपने बूब से लगा ली और सिसकारियां लेने लगी बैठ गया मेरी चूत को निहारने लगा। सहलाने लगा और फिर चाटने लगा मैं बाथरूम में ही लेट दें बाथरूम में शावर चल रहा था हम दोनों भीग रहे थे। मैं अपने दोनों पैरों को फैला दें मेरा भाई मेरी चूत को  चाटने लगा. मेरे पूरे शरीर में करंट दौड़ रात सिसकारियां ले रही थी आह आह की आवाज कर रही थी। 

 उसके बाद वो मेरे ऊपर लेट गया मुझे किस करने लगा मेरे बूब्स को दबाने लगा मैं अपने भाई को दोनों पैरों के बीच में फंसा ली।  वह अपने लंड को मेरी चुत पर सेट किया और धक्के देने लगा पर वह अनाड़ी था सही से उसका लंड मेरी चूत मैं नहीं जा रहा था मैंने फिर से उसके लंड  को पकड़कर अपने चूत परफेक्ट थी और बोली धक्का दो वह धक्का दिया और उसका पूरा लंड मेरी चूत के अंदर चला गया फिर क्या था दोस्त हम दोनों एक दूसरे को कस के पकड़ रखे थे ऊपर से वह धक्का दे रहा था बाथरूम में पानी बह रहा था सावर चल रहा था और फच फच की आवाज पूरे बाथरूम में गूंज रही थी मेरे अपनों से सेक्सी आवाज निकल रही थी ऐसा लग रहा था मानो जन्नत में हूं वह भी अपने मुंह से अलग अलग आवाज निकाल रहा था और जोर-जोर से मुझे चोद  रहा था। वह कह रहा था दीदी आप गजब हो जीजा जी आप गजब अपने के मौका दिया है इसको मैं कभी नहीं भूलूंगा और आपकी जो मनोकामना है क्या प्रेग्नेंट मैं वह पूरा करूंगा और दीदी जब तक आप प्रेग्नेंट नहीं हो जाती है तब तक मैं आपको ऐसे ही सेक्स करता रहूंगा अब आप मेरी दीदी नहीं अब आप मेरी पत्नी अब आप मेरी रखैल हो अब मैं आपको रोज चुदाई करूँगा। 

 उसके बाद मैंने उसको नीचे लिटा दिया और मैं उसके ऊपर  चढ़ गई उसका लंड काफी लंबा और मोटा हो चुका था मैंने फिर से पकड़ कर अपनी चूत  पर सेट की और बैठ गई पूरा का पूरा लंड मेरी चूत मैं समा गया मैं उछल उछल कर उसके लंड  पर बैठने लगे वह नीचे से धक्के देता मैं ऊपर से बैठ जा सच की आवाज और हम दोनों की अंगड़ाइयां और हम दोनों के मुंह से सेक्सी आवाज और एक दूसरे को गाली देना प्राइवेट पार्ट का नाम बोलना मेरी दोनों बड़ी-बड़ी गोल-गोल और टाइट चूचियों  हम दोनों को बहुत अच्छा लगा। उसके बाद मैं खड़ी हो गई अपने एक पैर को थोड़ा ऊंचा की और वह भी खड़ा हो गया और बीच में नीचे से मेरे चूत मैं लंड को सेट किया और नीचे से ठोकने लगा। 

 हम दोनों एक दूसरे के होठ को पूछ रहे थे वह मेरी चूचियां  दगा रहा था और नीचे से ठोंके जा रहा था। करीब 40 मिनट तक हम दोनों बाथरूम में चुदाई  करते रहे हैं। और फिर हम दोनों एक साथ ही झड़ गए फिर हम दोनों ने मिलकर एक दूसरे के शरीर पर साबुन लगाना उस समय भी वह मेरे प्राइवेट पार्ट को खूब सहलाया और मैं भी उसके लंड   मैं साबुन लगाई। नहा कर निकले उसके बाद होटल वाले पहले ही वाइन लाकर दी थी हम दोनों ने दी वैसे हम दोनों नंगे ही बैठे थे और वाइन पीते हैं। उसके बाद मेरा भाई मुझे किससे लिटा दिया और फिर मेरी चूत  में वाइन डालकर चाटने लगा फिर मेरी बूब पर भी वाइन डाल दिया और चाटने लगा 10 मिनट में हम दोनों फिर से कामुक हो गए हम दोनों की कामुकता चरम पर चली गई उसने अब दोनों मेरे पैरों को अपने कंधे पर रखा और फिर से लंड  का सुपाड़ा मेरे चूत के ऊपर रखा और फिर से जोर जोर से मुझे चोदने लगा हम दोनों फिर से वाइल्ड हो गए और एक दूसरे का सहयोग करने लगे मेरे चूत पानी निकलने लगा उसने मेरी चूत कि पानी को पी गया चाट कर एकदम साफ कर दिया,

 अब उसने फिर से मेरी दोनों चूचियों को सटाया  और दोनों चूचियों के बिच में लंड पेलने लगा। अब उसका माल निकलने वाला था तभी उसने तुझसे मेरी चूत   में घुसा दिया और जोर-जोर से चोदने लगा करीब 5 मिनट में उसने अपना सारा माल मेरी चूत में डाल दिया फिर हम दोनों आराम से सो गए.

 दोस्तों 4 दिनों में हमने करें 40 बार चुदाई की एक दूसरे को खुश किया और फिर वापस दिल्ली आ गए। अब देखिये मैं प्रेग्नेंट होती हूँ की नहीं अगर नहीं हुई तो फिर से मेरे पति कह रहे हैं इस बार दस दिन के लिए जाना।  आशा करती हूँ आपको ये मेरी कहानी अच्छी लगी होगी। मैं भी नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम की बड़ी फैन हूँ। 

loading...

Hindi Sex Story

Hindi Sex Stories: Free Hindi Sex Stories and Desi Chudai Ki Kahani, Best and the most popular Indian top site Nonveg Story, Hindi Sexy Story.