Home » Antarvasna Sex Stories » ससुर जी इतने जोर से मत चोदो ना प्लीज

ससुर जी इतने जोर से मत चोदो ना प्लीज

Sasur Bahu Sex Story : कल रात मेरे ससुर ने मुझे रगड़ रगड़ कर चोदा। मैं भी खूब चुदी, रात भर उन्होंने इतने जोर जोर से धक्का मारा मेरी चूचियों को मसला मेरी गांड को चाटा मेरी चूत के पानी को पिया, अपना 9 इंच के लैंड से मेरे जबरदस्त चुदाई कर दी। आज मैं नॉनवेज story.com पर आपको अपनी कहानी बताने जा रही हूँ। आज मैं आप लोगों के सामने अपनी कहानी रखूंगी कि मेरे ससुर ने मुझे कैसे रगड़ रगड़ कर रात भर बूर को चोदा। पूरी रात मेरे बूब्स को इतना पिया कर मेरे निप्पल अभी तक दर्द कर रहा है। पर हां दोस्तों मैं भी पहली बार इतने मजे लेकर अपनी वासना की आग को शांत की हूँ। अभिनंदन के आपको अपनी बात बताती हूं।

मेरा नाम इंदु है मेरी उम्र 22 साल है मेरे शादी पिछले साल ही हुए थे। मेरे मां बाप ने धन दौलत के लालच में मेरी शादी एक ऐसे लड़के से कर दिया जो गे है। यानी कि मेरे पति को औरतों में कोई दिलचस्पी नहीं है उसको लड़का चाहिए गांड मरवाने के लिए। 1 साल तक मैंने कैसे-कैसे दुख रहे हैं वह मैं ही जानती हूं। जब एक लड़की की शादी होती है अपने ससुराल आती है उसके ख्वाब में होता है उसका पति उसे खूब प्यार करें। लड़की जब छोटी होती है तभी से वह सेक्स के बारे में सोचने लगते हैं जबसे उसकी चूचियां बड़ी होनी शुरू होती है। बहुत दिन बाद उसको अब लगता है कि मेरी चुदाई भी रोजाना होंगे। पर जब ख्वाब ख्वाब बनकर रह जाता है तो जिंदगी निराश हो जाती है।

जब मैं अपने पति को छोड़कर वापस अपने मायके जाने के लिए तैयार हो गई थी अपने पति को छोड़कर। मेरे मां पापा दोनों मुझे समझाएं कि देखो बेटे डॉक्टर इलाज करवाओ और अपने पति को ठीक करो। शादी विवाह ऐसी चीज नहीं होती है। कि हर 1 साल तुम अपने पति ही चेंज करो। धन दौलत की कमी नहीं है तुम्हारे ससुराल में जितना धन दौलत है जितना इज्जत मान मर्यादा है हम लोगों के यहां उसे 5 परसेंट भी नहीं है धन दौलत। तेरा पति बस ठीक हो जाए तो तुम कितनी बड़ी जायदाद की मालकिन होगी तुमको शायद नहीं पता है। तुम्हारे घर में ऐसे भी और कोई नहीं है तुम्हारे ससुर और तुम्हारे पति के अलावा। तुम तीन लोग ही हो इसलिए तुम सोचो समझो और जल्दी बाजी किसी चीज के लिए मत करो। कहीं दूसरे जगह तुम शादी करोगे तो हो सकता है लड़का अच्छा मिल जाए पर बाकी चीजें सही नहीं होगी तो फिर तेरी जिंदगी कष्ट में होगी।

गरमा गर्म सेक्स कहानी  पति के फुफेरे भाई ने चोद चोदकर चूत छलनी कर दी

मुझे उन लोगों की बात समझ आ गई थी। वह लोग सही कह रहे थे मैंने अपने पति से बात की कि हम लोग पटना जाकर डॉक्टर दिखा लेते हैं क्योंकि हम लोग पटना के आसपास के ही रहने वाले हैं। मेरी पढ़ाई दिल्ली में हुई है। मेरा पति इसके लिए तैयार नहीं हुआ उसने बोला कि जिंदगी भर मैं तुम्हारा पति बन कर रहूंगा। तुमको जो करना है करो कोई रोक-टोक नहीं है पर मैं तुम्हें पति का सुख नहीं दे पाऊंगा। शारीरिक क्षमता मेरे में नहीं है बाकी मैं तुम्हें दिल से बहुत चाहता हूं बहुत प्यार करता हूं इज्जत करता हूं और जिंदगी भर तुम्हें कभी किसी चीज की कमी नहीं होने दूंगा। पर तुम्हारी शरीर की जो भूख है उसको मैं पूरा नहीं कर सकता तुम चाहे तो कहीं और पूरा कर सकते हो मुझे कोई दिक्कत नहीं है मैं कसम खाकर तुमको बोल रहा हूं।

बात हो गई मेरे पति से आपको समझ आ गया वह मुझे रोकना थूकना नहीं चाहता है मुझे छूट देना चाहता है। पर मैं कहां मुंह मारूं किसके पास जाऊं कि मुझे चोद दो। मेरे नजर में एक इंसान है जो मेरे शरीर को भूख को खत्म कर सकता है मेरी वासना की आग को बुझा सकता है वह है मेरा ससुर घर की बात घर में रह जाए इससे और अच्छी क्या बात हो सकती है। मेरा ससुर मात्र 46 साल का आदमी है। अभी भी किसी लड़के से कम नहीं लगता है। हॉट और सेक्सी भी है। शौकीन और रंगीन मिजाज भी है वह अगर सच बताऊं दोस्तों तुम ऐसे लड़के की ही तलाश में थी जैसा मेरे ससुर है।

1 दिन की बात है मेरे पति दिल्ली आए हुए थे किसी काम के लिए। उस दिन मैंने सोच लिया था कि आज मैं अपने ससुर से अपने प्यार का इजहार कर दूंगी। और वैसा ही हुआ रात के 10:00 बजे मैं उनके कमरे में नहीं और बोले कि आपका बेटा तो मना कर दिया है मुझे कि वह शारीरिक सुख नहीं दे सकता है। औरत को अगर सिर्फ धन दौलत हो तो से काम नहीं चलता है जब तक उसकी वासना पूरी नहीं हो। मेरे ससुर बोले कि देखो इंदु जो मेरे पास है वह सब तेरा है धन दौलत सब कुछ पर जो मैं तुम्हें नहीं दे सकता वह मैं कैसे तुम्हें कहूं यह तुम्हारा है। पति का प्यार से पति दे सकता है। मैंने कहा आप पति का प्यार मुझे दे दो कोई दिक्कत नहीं है मैं नहीं जाऊंगी यहां से। मेरे ससुर बोले तो क्या तुम मेरे बच्चे की मां बनने के लिए तैयार हो। मैं बोली हां मैं मां बनने के लिए तैयार हूं किसी को क्या पता कि कि आपके बेटे का है या आपका है। मैंने आपके बेटे से बात कर लिया है उसने कहा कि तुम कहीं पर भी कुछ करो मुझे कोई मतलब नहीं है तुम्हें जिंदगी भर रखूंगा प्यार करूंगा चाहूंगा इज्जत दूंगा।

गरमा गर्म सेक्स कहानी  बेटे ने चोदा : बुखार में ठण्ड लग रही थी और गर्मी देने के चक्कर में

इतना सुनते ही ससुर जी बोले ठीक है जैसा तुम चाहो और हम दोनों एक दूसरे के करीब आ गए। सबसे पहले मैं जाकर अपने ससुर के पैर को छुए और उनसे आशीर्वाद लिया उन्होंने मुझे गले लगाए मेरा घुंघट हटाया। और फिर मेरे होंठ को चूमते हुए। मेरे ब्लाउज के हुक को खोला मेरे दो बड़ी-बड़ी चूचियां बाहर निकल आई। उन्होंने मुझे बेड पर लिटाया और मेरे हॉट को चुम्मा उसके बाद मेरे छाती को दबाने लगे मेरी बड़ी-बड़ी चूचियां तन कर खड़ी हो गई थी निप्पल को जब उन्होंने उंगली लगाया तो मेरे अंदर से सिसकारियां निकलने लगी। अपना हाथ जैसे उन्होंने मेरी चूत के ऊपर रखा मैं झनझना गयी।

हम दोनों ही एक दूसरे में लिपट गए उनका लंड मैंने जैसे ही पकड़ा मैं खुश हो गई मोटा करीब 9 इंच का लंड। मुझे ऐसे ही लंड की जरूरत थी। वह मेरी चूचियों को मसलते हुए मेरी गांड में उंगली करने लगे मेरी चूत में दो उंगली इतना तेजी से डालने लगे मैं पागल से हो गई। मेरे चूत से गर्म गर्म पानी निकलने लगा था। सफेद क्रीम जैसे ही मेरी चूत से निकला मेरे ससुर जी उसे अपने जीभ से जाट गए। जैसे ही उनका जीभ मेरे चूत पर पड़ा। मैंने अपनी दोनों टांगे खोल दी। उन्होंने मेरे कमर के नीचे तकिया लगाया दोनों टांगों को अलग अलग किया अपना मोटा लंड चूत के छेद पर रखा और जोर से घुसा दिया।

मैं दर्द से कराह उठी अब वह रगड़ रगड़ कर मुझे चोदने लगे मेरे निप्पल को दबाने लगे मैं उनसे कहने लगी ऐसी जोर से मत लो ना ससुरजी जोर जोर से मत चोदो ना दर्द हो रहा है मुझे। पर मेरे ससुर कहां मानने वाले थे उन्होंने मेरे एक भी नहीं सुनी उल्टे मेरी गांड में अपने दो उंगली घुसा दिया। और जोर जोर से धक्के दे देकर मेरी बूर में अपना मोटा लंड अंदर बाहर अंदर बाहर करने लगे। मैं बार-बार उनको बोलते रहे ससुर जी धीरे कर लो ससुर जी धीरे कर लो उन्होंने मेरी एक भी ना सुने। उन्होंने मुझे उलट कर पलट कर खड़ा करके बैठा कर घोड़ी बनाकर सब तरफ से मुझे चोदा।

गरमा गर्म सेक्स कहानी  जेठ जी ने मेरी चुदाई की पारिवारिक सच्ची चुदाई की कहानी

मैंने भी अपनी वासना की धधकती आग में कूदकर खूब मजे लिए। अगर मैं दूसरी शादी कर भी लेती तो शायद मैं इतना खुश नहीं हो पाते जितना उन्होंने मुझे चोद कर किया था अब मेरे पास सब कुछ है। मेरी चूत की गर्मी को शांत करने वाला एक 9 इंच का मोटा लंड। पति का प्यार ससुर का प्यार धन दौलत और किसी चीज की कमी नहीं है अब मैं पूरी जिंदगी की ही रहूंगी। अपने पति का पत्नी बनकर और ससुर का रखैल बनकर। बहुत खुश हूं मैं मैं जल्द ही आपको भी खुशखबरी नॉनवेज स्टोरी के माध्यम से जरूर बताऊंगी।