भाभी को खेत में चोदा घोड़ी बनाकर

फटाफट चुदाई की कहानियां को सुनाने जा रहा हूँ। कल शाम को मैंने सुषमा भाभी को खेत में बुलाया और उन को घोड़ी बनाकर अपना मोटा लंड गांड की तरफ से जल्दी-जल्दी चोदा। सुषमा भाभी बहुत ही हॉट और सेक्सी औरत है। मेरी चचेरी भाभी लगती है। मेरे भैया है वह सबसे बड़े हैं परिवार में तो उनकी उम्र ज्यादा हो गई है और जब उनकी शादी हुई थी तो भाभी की उम्र कम थी। तो आजकल भाभी जवान है और मेरे नकुल भैया बूढ़े हो चले। आपको तो पता है दोस्तों बूढ़े की बीवी जब जवान रहे तो वह मुंह मारती ही है कहीं ना कहीं। बस आपको यह ध्यान रखना है कि किसका पति कौन सी औरत को संतुष्ट नहीं कर पा रहा है। यह बात अगर आपको पता चल जाए तो आप बहुत जल्द उस औरत को पटक कर चोद पाएंगे।

सुषमा भाभी बहुत हॉट और सेक्सी औरत है साड़ी ब्लाउज पहनती है मदमस्त दिखती है कजरारे नैन है गोरी चिट्टी है। बड़ी-बड़ी चूचियां गोल-गोल बाहर है। पीछे से अगर आप देख लेंगे तो आपको लगेगा बस साड़ी उठाकर अपना मोटा लंड उनके गांड में घुसा दे। पता नहीं कितने रातें मैंने उनकी याद में मुठ मारे होंगे। पर कल मुझे चोदने का मौका मिल गया और आगे का रास्ता भी साफ हो गया क्योंकि जब एक बार किसी महिला को आप संतुष्ट कर देते हैं तो नेक्स्ट टाइम भी आपको मौका मिलेगा यह पक्की बात है। पर आपको अपना व्यवहार सही रखना होगा। कभी भी लोगों के सामने ऐसा ना लगे कि आपका और उनके साथ कुछ ना कुछ चल रहा है। आप अपनी जागीर नहीं समझे ना अपनी बीवी समझे अगर आपको वह चोदने दे रहे हैं तो मौके का फायदा उठाएं और चुपचाप कंबल में घी पियें यही एक सच्ची कहावत है।

असल में मैं भाभी को बहुत पहले से पसंद करता था और कुंवारा लड़का ऐसे भी सबको पसंद करता है कोई भी चोदने दे दे चाहे वह कुतिया ही क्यों ना हो ऐसा ही मेरी भाभी है पर हॉट और खूबसूरत है तो उनकी याद में मुठ मारा करता था रोजाना। धीरे-धीरे मैंने उनको बताना शुरू किया वह जो कहती थी वह काम में तुरंत कर देता था कभी बाजार जाने कभी कोई सामान लाने। या घर में ही कोई काम होता था कुछ किसका ना हो कुछ लाना हो कुछ उठाना हो मैं हमेशा उनके लिए तैयार रहता था। अगर आप लोगों के काम आएंगे तो आप उनके करीब हो जाएंगे आपको भी यह बात पता होगा।

इस वजह से भाभी मेरी काफी ज्यादा करीब आ गई थी कुछ भी होता था वह मुझे बुला लेती थी धीरे-धीरे नकुल भैया को भी लगा कि यह काम आसानी से कर देता है तो कभी वह बाहर भी होते थे गांव के बाहर भी होते थे तो फोन कर देते थे आज जाकर थोड़ा भाभी के लिए यह ला देना यह काम कर देना। विश्वास बनाना बहुत बड़ी बात होती है और अगर एक बार विश्वास बन गया तो कोई दिक्कत आगे जाकर नहीं होगी।

गरमा गरम है ये  होली की खुमार में चोद दिया अपने आँचल दीदी को

बात दशहरे के दिन की है वह अपने बच्चों को मेला देखने के लिए पैसा दे रही थी मैं वही पर था उन्होंने मुझे भी ₹100 का नोट निकाल कर दिया और बोला कि यह लीजिए आपके लिए। तब तक सब लोग घर से बाहर निकल चुके थे मैं वही पर चारपाई पर बैठा था। मैंने कहा भाभी मुझे यह ₹100 नहीं चाहिए मुझे कुछ और चाहिए। उन्होंने कहा क्या चाहिए जो चाहिए आपको मिल जाएगा। मैंने कहा पर आप शायद नहीं देंगी इस वजह से मैं मांगता नहीं हूं। उन्होंने कहा आप जो भी मांगोगे मैं जरूर दूंगी अगर मेरे पास रहेगा तो।

मैंने कहा है आपके पास पर आप देंगे यह मुझे नहीं पता है इस वजह से हमेशा शक बना रहा था कि आप नहीं देंगी मना कर देंगे तो मैं कहीं का नहीं रहूंगा और शायद मेरा रिश्ता भी हो सकता आपके साथ खत्म हो जाए। या तो आप मुझे दे देंगे या तो जिंदगी में कभी आप मेरे से बात नहीं करेंगे। भाभी समझ गई मैं क्या मांगने वाला था। उन्होंने कहा मैं समझ रही हूं तुम कुछ ना कुछ उल्टा पुल्टा बोलने वाले हो। मैंने कहा क्या करूं आप इतने हॉट और सेक्सी हो कि उल्टा पुल्टा के अलावा और कुछ भी बात है ही नहीं मैं वही मांग रहा हूं जो आप सोच रहे हो।

भाभी ने ₹100 मेरे हाथ में रखते हुए बोली इंतजार करो समय का सब कुछ मिलेगा और मुस्कुरा दी। मैं खुश हो गया मुझे लगा कि निशाना सही जगह पर लगा है बस इंतजार मुझे करना होगा। पर क्या बताऊं दोस्तों इंतजार काफी ज्यादा हो गया दशहरा गया दिवाली गई सारी पर्व त्यौहार चला गया नवंबर भी पार हो गया दिसंबर आ गया। इसके पहले मैं तीन-चार बार इशारे में बोल भी चुका था भाभी बहुत लेट कर रहे हो आप उन्होंने कहा सही समय का इंतजार करो तुम्हारा काम हो जाएगा।

कोई मौका नहीं मिल रहा था और भाभी थोड़ा डरते थे कई बार जब वह अकेली होती थी और मैं चला भी जाता था तो जल्दी-जल्दी मुझे अपने घर से निकाल देती थी जबकि पहले ऐसा नहीं करती थी जबसे उन्होंने मुझे कहा था कि आगे में तुम्हें वह दूंगी जो तुम मांग रहे हो उस दिन से वह ज्यादा ही डरने लगी है। पर कल मेरी बात बन गई अब मैं सीधे यही बात आपको नॉनवेज story.com पर बताने वाला हूं।

गरमा गरम है ये  माँ की चूत चोदी तो जिन्दगी रंगो से भर गयी

कल हुआ ऐसा उनका टॉयलेट खराब हो गया जाम हो गया था इस वजह से वह शाम को उस में नहीं जा पाई इसलिए घर के पीछे बहुत दूर तक खेत है उसके बाद नदी है। भाभी 3:00 बजे ही हमको बोलती थी कि आज मैं नदी के तरफ जाऊंगी शाम को 5:00 बजे तो तुम वहां पर आ जाना और वह पहले से रहना। मैंने कहा ठीक है भाभी उनका मैसेज व्हाट्सएप पर था मैंने तुरंत व्हाट्सएप का मैसेज डिलीट कर दिया और उन्होंने भी अपना मैसेज डिलीट कर दिया।

मैं जबरदस्त तरीके से नीम का पाउडर लगाया और 4:00 बजे ही मैं नदी के तरफ चला गया। वहां जाकर पहले मैं नॉनवेज story.com पर एक भाभी की सेक्स कहानी पढ़ी और मूड बना लिया। भाभी 5:00 बजे के करीब आती हुई दिखाई दी मुझे। नदी के बगल में ही काफी ज्यादा पेड़ है वहां पर एक गड्ढा है जहां पर मैं बैठा हुआ था। मैं उनको इशारे से बुला लिया उधर। अंधेरा तो नहीं हुआ था पर हां अंधेरा होने वाला था दूर-दूर तक कोई लोग दिखाई नहीं दे रहे थे। और आजकल आपको ऐसे भी पता है बाहर कम ही लोग फ्रेश होने के लिए जाते हैं सबके घर में आजकल पायलट बन गया है। ऐसे में आप किसी को भी खेत में बुलाकर चुदाई कर सकते हैं।

भाभी आते ही मेरे से प्रॉमिस करवाई कि यह बात तुम किसी को नहीं बोलोगे और मुझे कभी तंग भी नहीं करोगे मैं तुम्हें जरूर दूंगी मैंने कहा भाभी आप की कसम मैं कभी भी आपको शर्मिंदा नहीं करूंगा ना तो किसी के सामने कुछ बोलूंगा आप इसके लिए बेफिक्र रहो और मैं किसी को भी कभी नहीं इस बारे में बात करूंगा। भाभी जब संतुष्ट हो गई मेरी बात से तो उन्होंने मेरे करीब आकर मुझे गले से लगा लिया और वह मुझे चूमने लगी मैं भी उनको चूमने लगा।

अनायास ही मेरा हाथ उनकी बड़ी-बड़ी चुचियों पर चला गया मैं उनके चुचियों को दबाने लगा और उनके होंठ को चूसने लगा उनके गाल पर किस करने लगा। उनको अपनी बाहों में जकड़ा तो मेरा लंड खड़ा हो गया। भाभी भी मुझे अपनी बाहों में ले ली मैंने तुरंत है उनके ब्लाउज का हुक खोल दिया और ब्रा का हुक खोलते हैं उनकी बड़ी-बड़ी चूचियां बाहर आ गई। वह ब्लाउज खोलने के लिए मना कर रही थी पर मैं जबर्दस्ती उनके ब्लाउज को खोल दिया और ब्रा को भी खोल दिया बड़ी-बड़ी चूचियां को देखकर मेरे से रहा नहीं गया मैं तुरंत दोनों को मसलने लगा और अपने मुंह में लेकर निप्पल को चूसने लगा। इतने में ही भाभी काफी ज्यादा गरम हो गई और वह मुझे चूमने लगी।

गरमा गरम है ये  रक्षाबंधन के दिन बहन की चुदाई की सच्ची कहानी

हम दोनों इधर उधर भी देख रहे थे ताकि कोई हम दोनों को देख ना ले। अंधेरा होने लगा था तो भाभी बोली थी जल्दी कर लो तुम्हारे भैया आने वाले हैं। मैंने तुरंत ही भाभी को लेटने के लिए बोला पर वह लेटने से मना कर दी। और वह झुक गई अपना दोनों हाथ जमीन पर रखें और कुत्तिया बन गई। मैंने तुरंत ही उनके साड़ी को ऊपर किया उनके पेंटी को नीचे सरकाया। अपना लंड निकाला भाभी की चूत को सहलाया और फिर जोर से अपना लंड भाभी की चूत में घुसा दिया।

चौड़ी गांड के तरफ से जवाब किसी को चोदते हो तो मजा ही कुछ और होता है आपके सामने गांड भी होता है और चूत भी दिखाई देता है और चूचियां लटक रही होती है। जबरदस्त चुदाई करने में। जोर-जोर से अपना लंड भाभी के चूत में घुसाने लगा। भाभी ज्यादा गरम हो गई थी वह भी धक्के देने लगी पीछे से मेरा पूरा लंड सटाक से अंदर जाता था और बाहर आता था। उनकी गांड को चलाते हुए उनकी चुचियों को भी दबाता था। भाभी बोली तुम्हारा लंड तो बहुत बड़ा और मोटा है। मैंने पूछा क्या आपको दर्द हो रहा है क्या उन्होंने कहा बहुत दर्द हो रहा है आज तक कभी इतना मोटे लंड और लंबे लंड से चुदी नहीं।

मैंने कहा फिर मजा ले लो जितना लेना है और जब जब लेना है मुझे बता देना। तभी भाभी का फोन बजने लगा भैया आ गए थे। उन्होंने कहा जल्दी जल्दी कर लो मैं फटाफट अपना लंड अंदर बाहर करने लगा भाभी भी कामुकता से भर गई थी वह भी धक्के देने लगी और उनके फोन को नहीं उठाई। 3:4 मिनट तक मैं जल्दी-जल्दी चोदा उनको फिर सारा माल गिरा दिया। उन्होंने मुझे वहां से भगा दिया जल्दी जल्दी और वो भी थोड़े देर बाद घर चली गयी।

Hot Real Indian Bhabhi Sex Album – मस्त भाभी की सेक्सी फोटो जो आपको कामुक कर दे हॉट भाभी की सेक्सी फोटो देखो देवर जी आपके लिए तैयार हूँ एक बार तो बुला लो मुझे Gaand Ka Photo, Indian women Ass Pic, Ass Photo My Hot Pussy, चोदना है तो बताओ कपडे खोलकर बैठी हूँ।