घर के बगल की भाभी के साथ सेक्स की कहानी


हेलो फ्रेंड नाम राजा है और मैं देल्ही का रहनेवाला हू…सीधा कहानी पर आते हैं… ये मेरे और मेरे पड़ोस वाली भाभी के बारे मैं है जो की बहुत ही सनडर हैं…उनका फिगर 36-34-36 होगा…बूब्स तो पक्का 36 हैं क्यूंकी मैने कई बार उनके ब्रा देखी है पर गांद का अंदाज़ लगा रहा हूँ….एक दूं गोरा रंग….हसीन आँखें और सॉफ्ट सी स्किन.


भाभी अक्सर सारी मैं ही हुआ करती तीन और उनके क्लीवेज काफ डीप दिखता था उनके ब्लाउस से…मुझे नाह्न पता था की भाभी भी सेक्स की टल्लश मैं हैं….पर मैं अक्सर उनके बूब्स को झाँकने की कोशिश करता रहता था….एक दिन भाभी घर आईं तो कोई नाह्न था मेरे अल्वा…भाभी और मैं बैठकर बातें करने लगे इतने मैं वो झुकी और उनका पल्लू क्या खिसका….मेरी तो नज़र वहीं रुक गयी….वो बड़े बड़े बूब्स….मेरे लंड जैसे सलाअमी के लिए ताइईयर ही हो गया…..और भाभी ने मुझे देख लिया….और वो अजीब सी स्माइल देकर किचन की तरफ चली गयीं…जब मैं उनके पीछे गया तो वो धीरे से बोली….लगता है जवानी संभाल नाह्न रही है आपसे….और बस फिर क्या रुकना न्ता…मैने पीछे से उन्हें पकड़ा…..उनकी कमर से होते हुए उनके बूब्स तक हाथ बढ़ाए और पीसे से उनकी गर्दन चूमने लगा…

फिर मैं और भाभी वापस सोफे पा आए और मैं उनके लिप्स पर किस करने लगा पागलों की तरह….उसके बाद मैं उनकी गर्दन, उनके पुर चेछरे को चाटने लगा और भाभी क्मधहोश होकर आव्आअज़ीन का र्रही थी…..आ राजा…वाउ…..उ र सो गूओड़…लीक मे बेबी…..मैं और पागल होकर ब्लाउस के उपर से उनको बूब्स दबाते हुए उनका बटन्स को खोला और उनकी ब्लाउस को उतार कर फेंक दिया….क्या सीन था…गोरे बूब्स पर पतली सी रेड ब्रा……ये देखार मैं भूके कुत्ट्ते की तरह उनके बूब्स दबाने लगा और चाटने लगा…उनके निपल्स को सक करने लगा……और वो कह रही थी…दब्ाओ इन्हें राजा….आज इनसे दूध निकल दो….आज मेरी निपल्स पर अपने दाँतों के निशान चोरह देना बेबी….ईट देम…बीते देम बेबी…..और मैं पूवरे जोश मैं उनकी ऊरी बॉड को लीक कर रहा था….उनके नेक, उनके बूब्स, उनकी आर्म्स, उनकी पीठ को भी पूऊरा चाटने के बाआड़ मैं उनके पैरों की तरफ बढ़ा….


इसे भी पढ़ें  भैया जोर से मत डालना : आमना की चुदाई मोटे लंड से

इतने मैं तो भाभी मेरे लंड को मेरी बॉक्सर के उपर से दबा रही थी और चूसने के लिए बेताब थी…..पर मैं उसे तडपा रहा था…मैने धीरे धीरे उनके पैरों को,,,उनकी थाइस को छाता और उनकी पनटी के उपर से उनकी चूओत के अरोमा को फील किया और टीज़ करके चोरह दिया….

भाभी तड़प रही थी…प्लीज़ राजा….प्लीज़ फक मे…लेट मे सक उर डिक प्लीज़…..और मैं फिर उन्हें खड़ा किया….उन्हें ज़ूर से क़िस्स्स किया…अन बूब्स को मसला…निपल को पिंच किया और उन्हें नीचे बिताया….वो मेरे लंड पर हपश्ी कुटिया की तरह टूट पड़ी और ज़ोर ज़ोर से चूसने लगी….वो बाब गालियाँ भी दे रही थी….वाह क्या क्लुंड है तेरा सूट….आज मैं इसकी मालकिन हुउऊँ….आज तू मुझे रंडी की तरह छोड़ेगा…और वो सक का र्रही थी…

मैने उन्हें फिर से किस किया और अपना लंड उनके बूब्स के बीच मैं डालकर छोड़ने लगा…उनके बूब्स पर मेरा प्रेकुं लगा गया तौर और आव्आआज़ आ रही थी…..ये करने के बाद मैने उन्हें उठाया…बेड पर लिटाया और टांगे फैलाकर उनकी पनटी कू फाड़ दिया…..क्या शेव्ड चूओत थी…एकद्ूम पिंक….मैं पागलों की तरह चाटने लगा और भाभी और एग्ज़ाइटेड हो गयी…वो नाख़ून लगाने लगी और मेरे मुँह अपनी छूट मैं घुसने लगी…….मैं उसे तडपा रहा था और उसका नमकीन पानी मेरे मुँह को मज़े दे रहा था…. और उन्हें मस्त होकर चाटने लगा…

भाभी थोड़ी वेट थी,,,,और मेरी टंग टच होते ही चिल्ल्लाने लगी…..आआआआआआआः…………कॉम्ेओने राजा… फक मे राजा….लीक मे हार्डर…. छातो मुझे..और ज़ोर से छातो… और छोड़ो.. प्लीज़ फक मे!


बहुत तड़पने के बाद मैने अपना लंड छूट पर रखा….छूट पर स्लाइड किया…और जब तक भाभी रांड़ की तरह भीक नाह्न माँगने लगी मैं स्लाइड ही करता रहा और फॉर उसके उपर लेट कर…उसके बूब्स को मसला और झटके देना शुरू किया…..आआआआआः….राजा छोड़ो मुझे……मेरी छूट को छोड़ो…फक तट स्लुटती पुसी राजा…फक इट हार्डर भाभी मुझे बीते कर रही थिया उर मैं उसस्से चाट रहा था…. छोड़ रहा था…मैं ज़ोर ज़ोर से शॉट्स लगा रहा था और वो ज़ोर ज़ोर से चिल्ला रही… आ… आ आ छोड़ो… और गलियाँ दे रही थी.. भौत बड़ा लंड है ये तेरा… छोड़ मुझे भेंचोड़.. आज अपनी रंडी बना ले मुझे.. आज से मैं तेरी हूँ…तू जब चाहे मुझे आयेज छोड़ सकता है.. छोड़…. और मैं भी रिटर्न मैं और एग्ज़ाइटेड होकर उसे छोड़ रहा था और ,मज़े ले रहा था… मैं फ्र भाभी को कुटिया बनाया और छोड़ना शुरू किया..अया..आ..क्या मज़ा आ रहा था..वो मेरे स्सांने कुटिया बनी हुई थी और मैं उसके बाल पकड़करा मस्त होकर उसे छोड़ रहा था…..


इसे भी पढ़ें  गुप्ता आंटी की लड़की पारुल को उसी की बेडरूम में टाँग उठाकर रगड़ के चोदा

छोड़ने के बाद मैं अपना साअर कम भाभी के बूओबस पर चोर दिया जो की उसने पूवरा का पूवरा चाट लिया… और वहीं मैं उसके मस्त सॉफ्ट बूब्स के उपर ह ठक्कर सो गया….थोड़ी देर बाद होश आया तो देखा की भाभी फिर से मूड मैं है…और मेरे लंड के साथ खेल रही है….मैं भी उनको क़िस्स्स करने लगा और उनके बूब्स चूसने लगा….थोड़ी ही देर मैं माहॉल गरम हो गया पर भाभी ने कुछ और ही प्लान किया था..

वो किचन मैं गयी और वहाँ से चॉक्लेट सरप लेकर मेरे उपर बैठ गयी,….और मुझे टीज़ करने लगी…..धीरे धीरे उसने वो सरप अपने लिप्स पर ड्रिप किया और फॉर मेरे पास आकर उसे मेरे लिप्स पर डाअला….श क्या सीन था….फिर वो अपने बूब्स पर सरप डाल रही थिया और मैं चाट रहा था….हम दोनों की बॉडीस चॉक्लेट मैं कवर्ड तीन और पुर रूम मैं चॉक्लेट का स्मेल भर गया था….मान भाबी को और वो मुझे मदहोश होकर लीक कर रहे थे,,.. उन्होने मुझे मस्त ब्लोवजोब भी दिया…


फिर हम 69 मैं आए और मैं भाभी की चोकॉलती पुसी को लीक करने लगा और फिर शुरू हुआ दूसरा चुदाई का रौंद….मैं मस्त होकर दोबारा छोड़ा और भाभी एक दूं चॉक्लेट की देवी लग रही थी…..ऐसा आग रहा था जैसे मैं किसी अप्सरा को छोड़ रहा हूँ…उन्हें किस करने मैं जो मज़ा आ रहा था..आ फिर से मैं उनके उपर झाड़ गया……..

जब मैं त्यार हो रहा था तो भाभी ने मुझे खुद स्सरे कपड़े पहनेअए और मैने उन्हें त्यार किया….उन्होने अपनी पनटी मेरे अंडरवेर मैं डाली और प्यार भारी किस की और बोला….’देवर्जी जल्दी आना, आपके लिए काफ़ी कुछ रह गया है’