बॉस की वाईफ की चुदाई “वूमेन ऑन द टॉप” पोज में

loading...

सभी लंड धारियों को मेरा लंडवत नमस्कार और चूत की मल्लिकाओं की चूत में उंगली करते हुए नमस्कार। नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम के माध्यम से आप सभी को अपनी स्टोरी सुना रहा हूँ। मुझे यकीन है की मेरी सेक्सी और कामुक स्टोरी पढकर सभी लड़को के लंड खड़े हो जाएगे और सभी चूतवालियों की गुलाबी चूत अपना रस जरुर छोड़ देगी।

मेरा नाम सरबजीत सिंह है। मैं भटिंडा का रहने वाला हूँ। मैं पिछले 5 सालो से मिस्टर खुल्लर के लिए काम करता था। उनकी पेन बनाने वाले एक बड़ी फैक्ट्री है। उनके बनाये पेन पंजाब के बजारों में बहुत बिकते है और बहुत पसंद किये जाते है। पहले मैं ऑफिस में ड्यूटी करता था पर बाद में उन्होंने मुझे घर पर लगा दिया था। मेरा मुख्य काम था बंगले के बाकी नौकरों से काम करवाना। इसके सिवा कोई न कोई गेस्ट बगले पर आता रहता था। मैं सभी लोगो को डील करता था। मिस्टर खुल्लर का बर्ताव अपनी वाईफ के लिए अच्छा नही था। जब देखो वो उनको डांटते रहते थे। मेरे बॉस बहुत ही रसिक मिजाज आदमी थे। अक्सर मुझे अखबार में ऐसे विज्ञापन देते को बोलते थे जिसमे नई लड़कियाँ उनकी फैक्ट्री में काम करे पर चूत भी दे दे।

मेरे बोंस की वाइफ को ये नही मालुम था की वो अपनी फक्ट्री में काम करने वाली हर लड़की की चूत मारते है। कई बार तो मुझे दिन में किसी लड़की को उनके ऑफिस में भेजने को बोलते थे। मुझे तो जॉब करनी थी इसलिए मैं उनकी सभी बाते मानता था। कुछ दिन बाद बॉस और उनकी वाईफ में काफी झगड़ा हो गया। उन्होंने बाल पकड़कर अपनी वाइफ को पीटा जिससे उनके पूरे बदन में काफी निशान पड़ गये। मैं उनकी वाईफ का ड्राईवर भी था। उनको कार में ले जाना ले आना मेरा काम था। दूसरे दिन जब बॉस की वाइफ आकर कार में बैठ गयी, मैं ड्राईवर की सीट पर था। उनका पूरा फेस सुझा हुआ था। मुझसे आज रहा न गया। मैंने अपनी चुप्पी तोड़ डाली।

“मैडम!! कल क्या फिर बॉस ने आपके उपर हाथ उठाया??” मैंने कहा

“तुमको तो सब पता ही है। वो हर बार ऐसा ही करते है। ऑफिस का गुस्सा मेरे पर निकालते है। मुझे अपने पैर की जूती समझते है। कभी प्यार से बात नही करते। सिर्फ जब चोदना होता है तब ही मेरे पास आते है। वरना मेरी तरफ देखते भी नही” बॉस की वाईफ बोली और फूट फ़ूटकर रोने लगी। मैं जल्दी से पीछे वाली सीट पर चला गया उनके पास और उनको शांत कराने लगा। वो मुझे बड़े प्यार से देखने लगी। फिर मेरे से लिपट गयी। मैं भी लिपट गया।

“क्या आप मार्किट नही जाओगी??” मैंने कहा

“नही मुझे कही नही जाना है। चलो अंदर चलकर व्हिस्की पीते है। मैं आज तुमको अपना दर्द बताउंगी!!” बॉस की वाईफ बोली

वो काफी अच्छे घर से थी। अभी उनकी ऐज 28 साल थी। देखने में काफी सेक्सी माल लगती थी। उनका रंग भी काफी गोरा था। जिस्म उनका भरा हुआ था की कोई मर्द देख ले तो लंड खड़ा हो जाए। बॉस की वाइफ का फिगर 34 32 36 था। उनके बाल तो माधुरी दीक्षित जैसे थे। बड़े बड़े और खूब घने। वो ही व्हिस्की की बोतल लेकर हम दोनों के लिए व्हिस्की के पेग बनाई। फिर हम दोनों पीने लगे। धीरे धीरे हम दोनों ने 4 पेज लगा लिए। बॉस की वाईफ मुझे लेकर सोफे पर बैठ गयी और पूरी स्टोरी सुनाने लगी। कैसे बॉस ने हमेशा उनको अपने पैर की जूती समझा। सिर्फ चोदने वाली मशीन समझा। उसके बाद वो मुझसे चिपकने लगी। मैं भी शुरू हो गया। करते करते हम लोग का किस शुरू हो गया। वो मुझे पकड़ ली और मेरे होटों पर अपने होट रखकर चुमबन देने लगी। धीरे धीरे उन्होंने ही अपना ब्लाउस खोल दिया।

“सरबजीत!! मैं तुमको कैसी दिखती हूँ??” बॉस की वाइफ पूछने लगी

“आप बहुत सेक्सी हो मैडम!!” मैंने मुस्कुराकर जवाब दिया

“क्या तेरी कोई प्रेमिका है???” वो भवे उठाकर पूछने लगी

“नही मैडम!! अपनी किस्मत इतनी तेज कहाँ। चूत देखे तो जमाना हो गया” मैंने कहा

Hot!!!  Sex in office trip

“तो आज मुझे अपनी प्रेमिका बना लो। आज तुम मेरी चूत चोद लो” वो कहने लगी

उसके बाद खुद ही आकर मुझसे लिपट गयी। दोस्तों जब कोई जवान औरत खुद ही चुदने का निवेदन करने लगे तो मैं कैसे पीछे हट जाता। मैं भी रोमांस में डूब गया। मैंने बॉस की वाईफ को गले से चिपका लिया और खूब प्यार किया। उनके गले पर ऊँगली फिराकर होटो से चुम्मा लेने लगा। ऐसा करने से वो फौरन ही पट गयी। उन्होंने अपना ब्लाउस उतार डाला। गुलाबी ब्लाउस में उनके दूध क्या सेक्सी दिखते थे। अब ब्रा भी खोल डाली और नंगी चूची लेकर मेरे सीने से चिपक गयी।

“सरबजीत!! आज तुम मेरे प्रेमी का रोल निभाओ!! मेरी प्यास बुझाओ” वो कहने लगी

मैंने उनको सोफे पर लिटा दिया। मेरा चोदू और रंगीन मिजाज बॉस तो ऑफिस में किसी सेक्रेटरी से मजे कर रहा था। और मैं इधर उसकी बीबी से मजे लूट रहा था। मैंने उनकी बड़ी बड़ी 34” की चूची को स्पंज वाले रसगुल्ले की तरह दबाना शुरू किया। मैडम “..अहहह्ह्ह्हह स्सीईईईइ….अअअअअ….आहा …हा हा सी सी सी” करने लगी। वो भी मजे करने लगी।

“दबा दो सरबजीत!! मेरे दोनों बूब्स को आज दबा दबाकर रस निकाल लो!!” मैडम कहने लगी

मैं खूब दबाया और खूब मसला। फिर रसीली गुलगुली चूची को मुंह में लेकर पीने लगा। जोर जोर से चूसने लगा। फ्रेंड्स, मेरा 9 इंच का लंड मेरी जींस में खड़ा हो गया था। बॉस की वाईफ की चूत चोदने को वो बेक़रार हो रहा था। मेरा जूसी लंड खाने को तडप रही थी। पर अभी मैं उनके मस्त मस्त कबूतर पर ध्यान केन्द्रित कर रहा था। उनकी 34” की बड़ी बड़ी चूची को मुंह में लेकर चूस रहा था। मैंने 15 मिनट चुसाई कर डाली। जिससे मैडम “……अई…अई….अई…..इसस्स्स्स्…….उहह्ह्ह्ह…..ओह्ह्ह्हह्ह….” करने लगी। मेरी टी शर्ट को वो उतारने लगी। मेरी जींस की बेल्ट भी खुलवा डाली। मैं नंगा हो चुका था।

“सरबजीत!! तुम लेट जाओ और मेरी उँगलियों का जादू देखो!!” वो बोली

फिर मैं आराम से 3 सीटर लम्बे सोफे पर लेट गया। आप लोगो को बता दूँ की मेरा बॉस बहुत पैसे वाला आदमी था। इसलिए उसके बंगले में हर चीज बहुत हाई क्वालिटी की और महंगी थी। ये वाला सोफा भी दिल्ली से आया था। बहुत ही मुलायम स्पंजी सोफा था ये। जैसे ही बैठो तो लगता था की लेट गये है। बॉस की वाईफ पूरे जोश में आ गयी थी। मेरे 9” के जूसी खीरे जैसे दिखने वाले लौड़े को फेटने लगी। जोर जोर से फेटने लगी। मैं मजा ले रहा था। मैडम ने 10 मिनट लंड फेटा और काफी कठोर बना दिया। फिर मुंह में लेकर जल्दी जल्दी चूसने लगी। खूब मजा आया मुझे। वो अपने सिर को जल्दी जल्दी नीचे उपर करके चूस रही थी। फिर काफी जल्दी जल्दी करने लगी। जिससे मुझे लगा की कही मेरा माल ना छूट जाए। काफी खातिर करने के बाद मेरे लंड की एक एक नस फूल गयी। मेरे गुलाबी सुपाड़े को चूस चूसकर उन्होंने चमका दिया। मेरा लंड किसी रोकेट की तरह खड़ा हो गया था।

“मुझे “वूमेन ऑन द टॉप” वाले पोज में चोदो सरबजीत!! मैं तेरे लंड की सवारी करूंगी। बोल सरबजीत करवायेगा???” मैडम कहने लगी

“बैठ जाइये मेरे लौड़े पर!!” मैंने कहा

वो अपनी साड़ी उतारी। फिर पेटीकोट खोल डाली। फिर पेंटी उताकर नंगी हुई। मेरे सामने उन्होंने अपनी चूत में ऊँगली करना शुरू कर दिया। ऐसी कामुक हरकते करते देख मेरा दिल उनकी मस्त मस्त चूत पीने का करने लगा। मैं उनको खा जाने वाले नजर से देखने लगा। फिर मैं खुद को रोक न सका। मैंने उनको फिर से सोफे पर लिटा दिया और चूत को चाटने लगा। जल्दी जल्दी चाट रहा था। मुंह लगाकर खाने लगा। बॉस की वाईफ “अई…..अई….अई… अहह्ह्ह्हह…..सी सी सी सी….हा हा हा…” करने लगी। मुझे लग रहा था की आज उनकी चूत किसी ने बड़े दिनों बाद पी है।

“और चूसो सरबजीत!! मुझे आनन्द मिल रहा है…. अई…..अई….अई!!” मैडम कहने लगी

मैंने भी किसी कुत्ते की तरह उनकी बुर को चूस डाला। फ्रेंड्स मैं उसी तरह से चाट रहा था जैसे बिल्ली चपर चपर करके दूध पी जाती है। मैंने इक्षा भरके उनकी चूत पी ली। मैडम की चूत अपना मक्खन छोड़ने लगी। मैं चपर चपर करके सब चूस गया। खूब पीया मैंने। फिर अपनी 2 ऊँगली मैंने उनकी चुद्दी में घुसा डाली। जल्दी जल्दी अंदर बाहर करने लगा। मैडम जी “आऊ…..आऊ….हमममम अहह्ह्ह्हह…सी सी सी सी..हा हा हा…..” करने लगी। जब जब उनकी चूत में ऊँगली करता उनकी बुर अपना प्यारा प्यारा रस छोड़ने लग जाती जिसे मैं पी लेता। इस तरह से बड़ा आनन्द लिया मैंने बॉस की वाईफ से।

Hot!!!  Mumbai Tour me Mast Ladki Ko Choda.

“आइये मैडम!! वूमेन ऑन द टॉप वाली पोजीशन में” मैंने कहा

वो जल्दी से आकर मेरे लंड पर विराजमान हो गयी। मेरे लंड ने उनकी चूत की दोनों फांको को फाड़ दिया और किसी खूटे की तरह अंदर घुस गया। मैं उनकी चूची को मसलने लगा। फिर मैडम जल्दी जल्दी उठने बैठने लगी। हल्के हल्के धक्के देकर जम्प करने लगी। वो चुदने लगी। वो मीठे धक्के देने लगी जिससे हम दोनों को अद्भुत मजा मिल रहा था। फिर बॉस की वाइफ ने जल्दी जल्दी जंप मारना शुरू किया और मस्ती से भरके चुदाने लगी। मै उनके दूध हाथ से दबाने लगा। वो “….उंह उंह उंह हूँ.. हूँ… हूँ..हमममम अहह्ह्ह्हह..अई…अई…अई…..” करने लगी।

“और तेज कूदिये मैडम!!” मैंने कहा

उसके बाद वो किसी रंडी की तरह 50 60 बार मेरे लंड पर कूदी और खूब मस्ती से चुदा ली। फिर मेरे उपर लेटकर प्यार करने लगी। हम लोगो का होटो पर किश फिर से शुरू हो गया। मैंने मैडम के दोनों चूतड़ पर कब्जा कर लिया। हाथ से कसके पकड़ा और आगे पीछे करने लगा। उनकी पूरी बोडी मेरे लंड पर आगे पीछे होने लगी। फिर मैं शुरू हो गया। मैंने नीचे से उनकी चूत में धक्के देने की रस्म शुरू कर दी। वो अच्छी तरह से चुद पा रही थी। मेरा लंड उनकी चूत को अच्छी तरह से फाड़ रहा था। काफी देर मैंने उनको अपने सीने पर लिटाकर चोदा। फिर वो मुझे किस करने लगी। वो अब नीचे आ गयी और मैं उपर पहुच गया।

loading...

मैंने उनके गालो को दांत गड़ाकर काट लिया। फिर उनके दोनों 34” की चूची को पकड़ लिया और लंड चूत में डालकर जल्दी जल्दी पेलने लगा। वो “उ उ उ उ उ……अअअअअ आआआआ… सी सी सी सी….. ऊँ…ऊँ…ऊँ….” करने लगी। क्यूंकि मैं सचिन तेंदुलकर की तरह जल्दी जल्दी चौके छक्के उनकी चूत में लगा रहा था। उनकी बच्चेदानी तक अपना लौड़ा पंहुचा रहा था। मैं इतना जोश में भर गया था की क्या बताऊँ। मेरे धक्को से पूरा बेड ही हिलने लगा।

“सरबजीत!! मुझे धीरे धीरे चोदो!! तुम तो मेरी चूत ही फाड़ डालोगे!!” वो कहने लगी

“मैडम जी!! आज मेरा इरादा कुछ ऐसा ही है” मैंने कहा

उसके बाद कुछ धक्के मैंने और मारे और माल अब बाहर आने लगा। मैंने लंड उनकी चूत से निकाला और उनके मुंह के पास ले जाकर मुठ मारने लगा।

“मेरे मुंह पर मत निकालो!” वो कहने लगी

“मैडम जी!! असली मजा तो माल मुंह पर लेने में है” मैंने कहा और जल्दी जल्दी अपनी पिचकारी छोड़ दी

बॉस की वाईफ अपनी ऊँगली लेकर माल चाटने लगी। उनके पूरे चेहरे पर मेरी सफ़ेद चाशनी पड़ी हुई थी। वो किसी चुदासी रंडी की तरह दिख रही थी। उन्होंने मुझे 2 हजार का एक नोट दिया। मेरा मैडम के साथ इश्क रोज ही होने लगा। मेरे बॉस को हमारे प्यार के बारे में कोई खबर नही थी। हम दोनों चुपके चुपके प्यार करने लगे। मैं रोज ही उनके लिए बजार से मिठाई लेकर आता था।

“सरबजीत!! मुझे ब्लू फिल्म देखना है!!” एक दिन वो कहने लगी

“मैं अभी आपके लिए कुछ ब्लू फिल्म डाउनलोड कर रहा हूँ” मैंने कहा और लैपटॉप पर मैंने हार्डकोर चूदाई वाली ब्लू फिल्म डाउनलोड कर दी। वो मेरे साथ लॉबी में बैठकर देख रही थी। ब्लू फिल्म देखते देखते बॉस की वाईफ गरमा गयी। उनका चुदाई का दिल करने लगा। मेरे से चिपक गयी और मेरे जांघो पर हाथ रखकर सहलाने लगी। मैं समझ गया की वो क्या चाहती है। फिर मेरी जींस के उपर से लंड को सहलाने लगी। खूब हाथ से रगड़ रगड़कर सहलाने लगी। ऐसी कामुक अदाये दिखाने से मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया था क्यूंकि मैं भी 25 साल का जवान मर्द था।

Hot!!!  Office girl supriya ki chudai hotel me

“सरबजीत!! क्या तुम मुझे खड़े खड़े चोद पाओगे। आज मैं कुछ नया ट्राई करना चाहती हूँ” बॉस की वाईफ कहने लगी

“ठीक है मैडम!” मैंने कहा

वो धीरे धीरे अपनी साड़ी ब्लाउस उतार कर नंगी हो गयी। अपनी पेंटी उतार डाली। उनका नंगा जादुई सेक्सी बदन एक बार फिर से मेरे सामने था। मैडम का जिस्म बिलकुल शेप में था। पतली कमर तो जैसे कहर ढा रही थी। मैं भी नंगा हो गया। मैडम लोबी की एक दिवार के सहारे खड़ी हो गयी। मैं जाकर जल्दी जल्दी उनकी चूत चाटने लगा। मैं नीचे बैठकर उनकी बुर चूसने लगा। वो “हूँउउउ हूँउउउ हूँउउउ ….ऊँ—ऊँ…ऊँ सी सी सी… हा हा.. ओ हो हो….” करने लगी।

“आप अपनी चूत में ऊँगली करके दिखाइये! मुझे देखना है” मैंने कहा

मैडम जल्दी जल्दी अपनी चूत में फिंगर करने लगी। उनकी पतली पतली उँगलियाँ भी कम सेक्सी नही थी। वो चूत में ऊँगली डालकर जल्दी जल्दी मथने लगी। पिच पिच की पनीली आवाज उनकी चूत से आ रही थी जो बहुत सेक्सी लग रही थी। उनके चूत का दाना बिलकुल खड़ा हो गया था। बॉस की वाइफ ने मुझे खूब खेल दिखाया। 10 मिनट अपनी बुर में जल्दी जल्दी तेज रफ्तार से कर डाली। उसके बाद ऊँगली बाहर निकाली। मैंने उनको दिवाल से चिपका दिया और चूत में जीभ लगाकर खूब किस किया। फिर फ्रेंड्स खड़े खड़े मैंने उनकी चूत में लंड डाल दिया। वो दीवाल से चिपककर खड़ी थी। मैं जल्दी जल्दी चोदने लगा। आज उनको पहली बार खड़े खड़े पेल रहा था। कुछ ही देर में मेरा 9” लंड उनकी चूत की गहराई नापने लगा। मैडम जी “……मम्मी…मम्मी…..सी सी सी सी.. हा हा हा …..ऊऊऊ ….ऊँ. .ऊँ…ऊँ…उनहूँ उनहूँ…..” करने लगी।

“मुझे प्यार करो!!” वो बोली

मैंने उनके चेहरे पर उँगलियाँ बड़े प्यार से फिराई। फिर होटो कर किस करते करते चूत चोदने लगा। फ्रेंड्स आप लोग बिलीव नही करोगे की खड़े होकर चुदाई करना कितना सेक्सी लगता है। मेरा लंड बिलकुल चैले की तरह मजबूत हो गया था। मैंने खड़े खड़े बॉस की वाईफ को खूब चोदा। उनकी चूत फाड़ डाली।

“अब मेरे लंड को चूसिये मैडम जी!” मैंने कहा

वो नीचे जैसे ही बैठी, मैंने उनके मुंह में लंड घुसा दिया। वो मेरे 9” के खीरे जैसे लंड को पकड़ ली और मुंह में लेकर चूसने लगी। कुछ देर में मैं उनके मुंह में ही स्खलित हो गया। दोस्तों अब बॉस की बीबी कभी भी नही रोती है। मुझसे रोज ही चुदा लेती है। आपको स्टोरी कैसी लगी मेरे को जरुर बताना और सभी फ्रेंड्स नई नई स्टोरीज के लिए नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पढ़ते रहना। आप स्टोरी को शेयर भी करना।

[Total: 426    Average: 3.3/5]
loading...