बरसात में बेटे ने चोदा मेरा भीगा बदन देख कर

बरसात सेक्स स्टोरी, माँ बेटे की सेक्स कहानी, बरसात में चुदाई, Barsat me Sex, बारिश सेक्स – एक कहानी ऐसी भी जब एक बेटे ने अपनी माँ को चोद दिया जब वो माँ को भीगता हुआ देखा बारिश में और जब चूचियां ब्लाउज में गोल गोल दिखाई देने लगी गांड की गोलाई बनावट और बिच में फटा भाग जब भीगने की वजह से सट गया वो अपने आप को काबू नहीं रख पाया और फिर जो हुआ इस कहानी में बताने जा रही हूँ।


मेरा नाम रानी है मैं 38 साल की हूं। मैं गोरी हूं मैं सुंदर हूं मैं हॉट हूं मेरा इकलौता बेटा है जो 21 साल का है पति बड़े ऑफिसर हैं ज्यादा से ज्यादा समय वह देहरादून से बाहर ही रहते हैं मैं अपने बेटे के साथ देहरादून में रहती हूं। मेरा बड़ा सा फार्म हाउस है किस चीज की कोई कमी नहीं है जिंदगी मस्त जी रही हूं बेटा मेरा पढ़ाई कर रहा है वह भी बहुत हॉट है जिम जाता है तो दोस्तों किसी चीज की कमी कभी नहीं रही पर हां एक चीज की जो कमी है वह यह है कि मेरा पति ज्यादा बाहर आता है तो मेरी जो सेक्स की भूख है वह पूरी तरीके से खत्म नहीं होते हैं।

मैं भी सेक्सी हूं काफी हॉट हूं तो मुझे तो चुदाई चाहिए। मैं घर में भी हॉट और सेक्सी कपड़े पहनती हूं जब भी मैं अपने घर से बाहर निकलती हूं तो लोग मुझे जरूर घूर कर देखते हैं क्योंकि मेरी शरीर की बनावट ही ऐसी है कि कोई भी मेरा दीवाना बहुत जल्दी सो जाता है आगे से मेरी चूचियां बड़ी बड़ी गोल-गोल जो आगे से सबका मन मोह लेता है और पीछे से मेरे गोल गांड सबकी पसंदीदा चीज मेरे लिए है।

तो दोस्तों सब की नजर में हो सब लोग मुझे घूरते हैं। मुझे मर्दों का घूरना बहुत अच्छा लगता है। पर जिस जगह पर में रह रहे हो वहां पर और भी लोग हैं सभ्य लोग हैं तो मैं अपने आप को काबू में रखती हूं। क्योंकि दोस्तों आपको ही पता है जो महिला अगर सेक्स करना चाहे वह किसी के साथ भी सेक्स कर सकती है चाहे वह अपना ड्राइवर हो अपना माली हो जाए अपना नौकर या किसी और को भी पटा ले तो चलेगा।

जिसको चाहे अपने कब्जे में ले सकते हैं मुझे भी ऐसा लगता है कि कोई मुझे चोदे। पर आपको ही पता है सबको सोचना होता है कल कोई ब्लैकमेल करने लगे तो मैं क्या करूंगी मैं तो पास हो जाओगे अगर कोई ऐसा मर्द मुझे मिले जो सिर्फ चोदने का काम करें मुझे फंसाने का काम नहीं करें तो मैं आराम से उसे चुद सकती हूँ।

आज मेरी मनोकामना पूर्ण हो गई। कोई बाहर वाला नहीं था पर मेरा सगा बेटा था जिसने आज मुझे बारिश के बाद जमकर चोदा, यह कैसे हुआ वह मैं बता रहे हो मजे कैसे ले कैसे उसने मेरे चुत में उंगली घुसाया कैसे मेरे बूब्स को दबाया और कैसे मैं कामुक हो गयी ये सभी बातें आपको नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पर बता रही हूँ।

कामुक और हॉट सेक्स कहानी  मामा जी ने भांजी की कमसिन चुत फाड़ डाली

मेरे पति यहां नहीं है बेटे का कॉलेज में बंद है 10:00 बजे के करीब आज दिन में काफी जोर से बारिश होने लगी थी मैं छत पर गई तो लगा में भीग जाऊं थोड़ा सा क्योंकि मुझे बारिश में भीगने का बहुत शौक है तो मैं नाइटी में भीगने लगी। मेरा बेटा भी तभी आ गया उसने बोला मम्मी क्या मैं भी आपके साथ भीग जाऊं तुम्हें बोली देख ले तबीयत अधिक खराब ना हो बस इस बात का ध्यान रखना। उसने बोला कोई बात नहीं मैं ज्यादा देर तक नहीं नहा लूंगा उसके बाद हम दोनों मां बेटा छत पर ही भेजने लगे मैं तो छत बहुत लंबा चौड़ा है बारिश हो रही थी पहाड़ दिखाई दे रहा था मौसम बहुत अच्छा था तो मन मचल रहा था।

मूसलाधार बारिश की वजह से मेरे बदन भीग चुके थे मेरी नाइटी मेरे में सट गया था। मेरे शरीर का हरे का अंग बाहर से दिखाई दे रहे थे भले में नंगी नहीं थी पर बारिश की वजह से मेरे कपड़े मेरे शरीर में चिपक गए थे तो आप खुद सोचिए अगर एक 21 साल का लड़का आपको ऐसे हालत में देखेगा तो क्या करेगा।

मेरा बेटा खुद ही बरमुंडा पहना हुआ था अंदर जान गया भी नहीं पहना था और मैं भी वैसे ही थी मैं भी अंदर कुछ नहीं पहनी थी ना तो मैं ब्रा पहनी थी ना तो मैं पहनती पहनी थी तो एक-एक अंग 11 गोलाई मेरे बूब की साफ साफ दिखाई दे रहा था मेरी गांड में कपड़े चिपक चुके थे तो बाहर से मैं सेक्सी लग रही थी जब चलती थी तो मेरी दोनों चूतड़ जब मिलती थी तो मेरा बेटा उसे निहार रहा था.

मेरे होंठ लाल हो गए थे मेरे बाल भी गए थे मेरे कमर तक बाल थे तो मैं और भी ज्यादा सेक्सी लग रही थी। मेरे बेटे की नजर मेरे बूब्स पर था क्योंकि मेरे निप्पल बाहर से दिखाई दे रहे थे मेरे बूब की गोलाई मेरा वह कितना बड़ा है वह सब साफ साफ दिखाई दे रहा था दोस्तों तो कोई भी बैंक जाए चाहे मेरा सगा बेटा ही क्यों ना हो।

मेरे बेटे की बहस निगाहें मेरे ऊपर गई थी बार-बार अब मेरे करीब आकर मेरे बदन को निहारने लगा था मेरे गांड को निहारा था तो मुझे उसका निहारना अच्छा लगने लगा। मैंने बोला क्या बात है बेटा आज तेरा मन कुछ ऐसा ही लग रहा है तो बोला हां। फिर मैं बोली क्या तेरी कोई गर्लफ्रेंड है कि नहीं है उसने बोला नहीं अभी नहीं बन पाई तो मैंने पूछा कि क्या तुमने कभी सेक्स किया है उसने बोला नहीं अभी तो नहीं किया।

सच तो बात यह दोस्त कि मेरा मन भी मचल उठा था उसके बदन को देख कर उसका लंड तंबू की तरह पेंट में खड़ा था। मैंने भी उसको नशीली निगाहों से उसको देखिए अपना बाल झटके तब वह काबू में ना रहा उसने बोला है कि मम्मी क्या एक मां बेटा सेक्स कर सकता है मैं तो कई सारे कहानियां पढ़ा हूं नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पर जहां पर ऐसी कहानियां पढ़ने को मिलती है तो क्या यह संभव हो सकता है।

कामुक और हॉट सेक्स कहानी  लॉक डाउन में पापा ने मुझे मम्मी समझ कर चोद दिया नशे में

मैं बोली संभव हो सकता है पर इस बात का ध्यान रखना बहुत जरूरी होता है कि यह रिश्ते अपने तक ही सीमित रखना होता है बाहर जब भी किसी को पता चल जाए तो दुनिया उसका जीना हराम कर देता है इसलिए अगर तुम चाहते हो कि मेरे साथ सेक्स करना तो यह बात अपने तक ही रखना तो मैं तैयार हूं तेरे साथ सोने के लिए।

उसने तुरंत ही जवाब दिया मैं किसी को नहीं बताऊंगा क्या मैं अभी आपको किस कर सकता हूं। मैं बोली ठीक है चलो नीचे दोस्तों जैसे मैं छत का दरवाजा बंद की. सीढ़ी पर ही उसने मुझे चूमना शुरू कर दिया है मेरे बूब्स दबाने लगे मेरे गांड सहलाने लगा मैं भी उसके लंड को पकड़ ली उस को सहलाने लगी मेरी चुत गीली होने लगी थी दोस्तों मैं पागल होने लगी थी क्योंकि मुझे ऐसे ही जवान लड़के की जरूरत थी जो मुझे खुश कर सकता हो मेरे शरीर की ज्वाला मेरे जिसमें की ज्वाला को शांत कर सकता हो।

मैं तो लेके चलो बेडरूम में उसके बाद हम दोनों बेडरूम में चले गए मैंने उसका पेंट उतार दी उसने भी मेरे नाइटी को उतार दिया और हम दोनों नंगे थे बैडरूम में पहुंच गए मैं पहले उसका लंड हाथ में पकड़ कर चूसने लगे वह अपने दांत अपने होठों पर मसल रहा था मेरी चूचियां दबा रहा था जोर जोर से मसल रहा था मेरी चूचियों को मेरा मन और भी ज्यादा खराब होने लगा मेरे सिसकारियां निकलने लगी मेरे मुंह से मेरी चुत गीली हो गई पानी पानी हो गया मैंने बोला बेटा ऐसे कुछ नहीं होगा अब तू मेरी चुत चाटो।

मैं लेट गयी वहीं पर उसने मेरी टांगों को अलग अलग किया और अपना जेब से मेरी चुत को चाटने लगा दोस्तों मैं क्या बताऊं मेरे शरीर में कैसी बिजली दौड़ रही थी एक तो आसमान में बिजली कड़क रही थी दूसरा मेरे शरीर के अंदर बिजली दौड़ रहे थे मैं पागल हो रही थी मैं खुद से अपनी चूचियां मसल रही थी।

अब सब कुछ मेरे बर्दाश्त के बाहर था उसने मेरे बूब्स को पीना शुरू कर दिया। दबाने लगा चाटने लगा चूसने लगा मेरे होठों को चूसने लगा मैं भी उसके होंठों को चूसने लगे वह अपनी जीभ मेरे मुंह में डाल दिया था बारी-बारी से कभी फिर मेरे मुंह में अपना जीभ डालता कभी मैं उसके मुंह में जीभ डालती। हम दोनों ही बहुत ज्यादा कामुक हो गए थे अब मैं बोली बेटा ऐसे काम नहीं चलेगा अब तुम अपना लंड मेरी चुत में डालो।

उसने मेरे दोनों टांगों को अलग अलग किया अपना लंड मेरी चुत के द्वारा पर रखा और जोर से पेल दिया होता तो पहले से ही बहुत गीली थी इस वजह से फटाक से उसका लंड मेरी चुत में अंदर दाखिल हो गया। अब मैं गांड उठा उठा के धक्के देने लगे ऊपर से उठा कर देता नीचे से में धक्के देकर। वह मुझे खुश कर रहा था मैं उसको खुश कर रही थी दोनों एक दूसरे को खुश कर रहे थे।

कामुक और हॉट सेक्स कहानी  पति के कहने पर देवर जी ने मुझे मुता मुता कर चोदा और मेरे साथ सुहागरात मनाई

उसके बाद मैं पेट के बल लेट गई उसके बाद मैं उसको बोली चलो मेरे गांड में अपने लंड डाल। गांड मेरी थोड़ी टाइट थी इस वजह से जल्दी नहीं जा रहा था अंदर इसलिए उसने अपने लंड पर थूक लगाया और फिर से कोशिश किया पूरा लंड मेरी गांड में समा गया अब मैं उसको कहने लगे धक्के मारो धक्के मार जोर जोर से धक्के देने लगा मेरी जूती मेरी चूचियां हिलती दोस्त बहुत मजा आ रहा था एक तो पहले से ही पूरा भीगा बदन था अंदर से जिस्म की गर्मी सेक्स को और भी ज्यादा बेहतरीन बना रहा था।

उस मैं ऊपर आ गई वह नीचे लेट गया मैं उसका लंड पकड़ कर अपनी चुत में ले ले और बैठ बैठ कर आने लगे जोर जोर से धक्के देने लगे पूरे कमरे में आवाज आ रही थी चुदाई की उसने करीब 1 घंटे तक 14 घंटे के बाद में भी काफी थक गई थी उसका भी जा रहा था मैं उस समय तक दो तीन बार झड़ चुकी थी। उसके बाद मैं चुत में अपना माल मत गिराना तुम मेरे मुंह में डाल दो उसने अपना लंड मेरे मुंह के पास लेकर आया दो-तीन बार अपने लंड को हिलाया और पूरा माल मेरे मुंह में गिरा दिया मैं आराम से माल को चाट गई और उसके लंड को फिर से चूसने लगी।

दोस्तों उसके बाद हम दोनों ही बेड पर आराम से सो गए शाम को जब उठी हूं तो यह कहानी लिख रही हो मेरा बेटा भी अपने दोस्त के बर्थडे में गया है रात को करीब 12:00 बजे आएगा उसके बाद क्या होता है वह मैं आपको अगली कहानी में इसी वेबसाइट यानी नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पर जरूर शेयर करुंगी तब तक के लिए धन्यवाद।