मेरे ही क्लासरूम में हुई मेरी हॉट गर्लफ्रेंड की हॉट चुदाई

 


School Sex Story in Hindi, हाय फ्रेंड्स, मैं अनुज आपको अपनी सेक्सी स्टोरी सुना रहा हूँ। मैं नॉनवेज स्टोरी का नियमित पाठक हूँ और यहाँ की कोई भी कहानी मिस नही करता हूँ। तो दोस्तों आपको अपनी स्टोरी सुनाता हूँ। ये बात कुछ दिनो पहले की है। मेरी सेक्सी गर्लफ्रेंड टीना बार बार कह रही थी की मुझे चोदो! मुझे चोदो! पर दोस्तों मुझे कहीं भी कोई खाली जगह नही मिल रही थी जहाँ पर मैं उसे ले जाकर चोद लेता। मेरे घर में कोई कभी बाहर जाता ही नही था और मुझे इतनी पॉकेट मनी नही मिलती थी की मैं टीना को होटल में ले जाकर पेलू। इसलिए कई दिनों ने मेरा दांव नही लग पा रहा था। इसी दौरान मेरे क्लास टीचर ने मेरे सबसे जादा मार्क्स आने की खुशी में मुझे क्लास मोनिटर बना दिया। मैं एन सी सी का इंचार्ज भी था इसलिए स्टूडेंट्स को ड्रेस, शूज , कैप और अन्य चीज देने की जिम्मेदारी मेरी थी।

इसलिए मोनिटर बनने के बाद सर ने मुझे एन सी सी वाले कमरे ही चाभी दे दी। चाभी मिलते ही मेरे दिमाग में आइडिया आया की क्यूँ न अपने क्लास रूम का ताला खोलकर उसी में अपनी माल रिया को चोदा जाए। कुछ दिन बाद २६ जनवरी का फंक्शन था। सारे स्टूडेंट्स बड़े हाल में बैठे थे। वहां कॉलेज फेस्ट चल रहा था। तरह तरह के डांसिंग और सिंगिंग प्रोग्राम्स चल रहे थे।

‘जान !! अपने क्लासरूम की चाभी मेरे पास है!! तुम्हारा मूड हो तो बताओ??” मैंने टीना से पूछा और उसकी चाभी दिखाई

‘अनुज !! कबसे मैं तुमको पाना चाहती हूँ ! चलो क्लास रूम में चलते है!’ टीना बोली

मैं उसको कमरे में ले आया। हम दोनों एक दुसरे ली लिपट गये और देर तक चुम्मा चाटी करने लगा। टीना ने मेरे सीने पर एक प्यार भरा मुक्का मारा।

“कितने दिनों में मैं तुमसे कह रही हूँ की मुझे चोदो !! पर तुमको तो पढाई और एन सी सी से फुर्सत नही है” टीना शिकायत के लहजे में बोली

“….ऐसा नही है जान !! मेरे लिए तुम सबसे जादा इम्पोर्टेन्ट हो। उसके बाद कुछ और मैंने कहा।

फिर दोस्तों हम दोनों पागल प्रेमी एक दुसरे के लब चूमने लगे। मेरी गर्लफ्रेंड टीना बहुत ही खूबसूरत थे। वो इतनी गोरी और सफ़ेद रखी थी की मेरी क्लास के सब लड़के पड़ते कम थे, उसे ही हमेशा ताड़ा करते थे। टीना को देखकर सभी लड़को के लंड खड़े हो जाते थे। और सभी उसे कम से कम एक बार चोदना चाहते थे। मैं टीना को लेकर अपनी क्लास में आ गया। यहाँ पर फर्श पर बड़े बड़े चिकने टाइल्स पर वाले पत्थर लगे थे जो टीना की ठुकाई करने के लिए बिलकुल सही जगह थे। धीरे धीरे हम दोनो ने एक एक करके अपने कपड़े निकाल दिए। मेरे क्लास मेट्स २६ जनवरी का प्रोग्राम देख रहे थे। और मैं टीना को लेकर यहाँ क्लास रूम में आ गया था। जैसे ही उसने कपड़े निकाले मेरा दिल उस पर आ गया।

सिर से पाँव तक टीना बहुत ही चिकना माल थी। हम दोनों एक दुसरे के साथ फ्रेंच किस करने लगे। हम एक दुसरे के होठो से होठ सटाकर किस करने लगे और एक दूसरे के मुँह में जीभ डालकर एक दुसरे की लार पीने लगे। मैं जोर जोर से टीना जैसी मस्त माल के होठ पुरे मन से पीने लगा। हमारे फ्रेंच किस में एक अजीब जादू, एक शक्ति और एक विचित्र नशा था। मैं टीना के नीचे वाले होठ को अपने दांत से काटने लगा। उसका पूरा जिस्म बहुत गर्म हो गया। टीना ने मुझे बाहों में भर लिया और मेरे गले में अपने दोनों हाथ डाल दिए। दोस्तों, हम दोनों अपने आने कपड़े निकाल चुके थे और नग्न हो चुके थे। मैंने टीना की कमर में हाथ डाल दिया और उसके साथ फ्रेंच किस करता रहा। हम दुसरे के होठ और जीभ चूसते रहे। टीना बहुत जादा गर्म हो गयी तो मैंने उसे अपनी क्लास रूम के चिकने फर्श पर लिटा दिया। मैं भी टीना पर लेट गया और उसे दोनों बाहों में भर लिया मैंने उसे। दोस्तों मुझे तो टीना दुनिया की सबसे मस्त माल लगती थी।  उसके चेहरा बहुत खूबसूरत था। सधी हुई नाक थी, ऊँची और काली काली भौहें थी, वो बहुत सुंदर लड़की थी। टीना के बूब्स और चूत की मैं जितनी तारीफ़ करूँ कम है। मैंने उसके उपर लेट गया और उसके बूब्स पीने लगा।

कामुक और हॉट सेक्स कहानी  घर के बगल की भाभी के साथ सेक्स की कहानी

“जान कह दो की अनुज मुझे एक बार कसके चोद दो!!” मैंने टीना से कहा

वो कुछ देर तक कुछ नही बोली फिर बोली की अनुज मुझ को चोद दो। मुझे टीना की इस अदा पर प्यार आ गया और मैंने उसकी चूत पर आ गया और जीभ लगाकर उसकी चूत की चाटते लगा। दोस्तों, मैं जोर जोर से किसी कुत्ते की तरह उसकी बुर चाट रहा था। टीना को बड़ा मजा मिलने लगा। वो मजे से मुझे अपनी बुर पिलाने लगी। उसके दूध को बहुत ही जादा सुंदर थे। मैं बार बार उसके बूब्स को अपने हाथ से सहला देता था। जैसे जैसे मेरी जीभ टीना केभोसड़े पर घुमने लगी उसकी चूत और भी जादा रसीली होंने लगी। उसकी चूत का माल बाहर निकलने लगा जिसे मैं तुरंत चाट जाता था। टीना ने मेरे कंधे पकड़ लिए और बैठकर मुझे अपनी चूत पिलाने लगी। मैं जल्दी जल्दी अपनी जीभ उसकी लाल लाल चूत पर घुमाने लगा। उसे बहुत सुख मिल रहा था

“प्लीस !!! अनुज !! मेरी जान ! मेरी चूत तो ऊँगली करो ना प्लीस!! मुझे बहुत अच्छा लगाता है!” टीना बोली

‘जान !! तुम्हारा हुक्म सर आँखों पर!” मैंने कहा और अपने सीधे हाथ की बीच वाली लम्बी ऊँगली मैंने बड़े प्यार से टीना के भोसड़े में डाल दी। एक ज़माने में टीना को चूत बिलकुल फ्रेश हुआ करती थी, पर जब मैंने उसे कॉलेज की छत पर जाकर पेला था तो उसकी चूत ढीली हो गयी थी। उसके बाद ने मैंने उसे इतनी बार ठोंका था की टीना की चूत पूरी तरह से फट गयी थी। इसलिए दोस्तों, आज जब मैंने उसकी गुलाबी मक्खन जैसी बुर में ऊँगली डाली तो बड़े आराम से अंदर चली गयी और मैं जल्दी जल्दी टीना की चूत फेटने लगा। उसे ऐसा नशीला नशा चढ़ा की उसके पेट में मरोड़ पड़ने लगे। मुझे ये देखकर और जादा मजा मिलने लगा और मैं जोर जोर से अपना सीधा हाथ उसकी चूत में अंदर बाहर करने लगा। टीना के पुरे जिस्म में आग लग गयी। वो मोनिंग करने लगी। कराहने लगी।

टीना बहुत गर्म गर्म आहें भरने लगी। ये देखकर मुझे और रोमांच होने लगा और मैं अपनी क्लासरूम में ही अपनी माल टीना की चूत को अपने हाथ से चोदने लगा। दोस्तों, मुझे लगा रहा था मैंने किसी गर्म अंगीठी में हाथ डाल दिया हो। जैसे जैसे मैं टीना के खूबसूरत भोसड़े में हाथ डालने लगा वो और जादा गर्म होने लगी। उसे इतनी जादा यौन उतेज्जना हो रही थी की वो क्लासरूम के फर्श पर लेट न सकी और दोनों हाथो के सहारे से आधी बैठ गयी और पीछे की ओर दोनों हाथो पर झुक गयी। मैंने अपना मुँह टीना की चूत में लगा दिया और ऊँगली करते करते ही मैं उसकी चूत पीने लगा।

‘हाँ हाँ आहां आ आ हा हा ओह्ह्ह!” टीना इस तरह से गर्म गर्म आवाजे निकलने लगी। मैं दो काम एक साथ कर रहा था। उसकी चूत में ऊँगली भी कर रहा था और चूत पी भी रहा था। थोड़ी थोड़ी देर में उसकी चूत का माल बाहर निकल आता था जिसे मैं पूरा पी जाता था। हालाँकि ये काफी गन्दा काम था पर इसमें मजा भी बहुत मिल रहा था।

“अनुज !! मेरे दिलबर ! और जोर जोर से करो !! आज मेरी नाजुक चूत को फाड़कर रख दो! जरा भी इसपर रहम मत करना!” टीना बोली

कामुक और हॉट सेक्स कहानी  Do behan ki chudai, दो बहने की चुदाई एक साथ

उसके बाद तो दोस्तों जैसे मैं बिलकुल पागल हो गया। मैंने बिजली जैसी रफ्तार से उसकी चूत में जल्दी जल्दी अपनी ऊँगली चलाने लगा। इससे उसकी चूत में आग लग गयी जैसे किसी सूखे जंगल में गर्मी के मौसम में आग लगा जाती है। उसके बाद टीना अपनी कमर उपर हवा में उठाने लगी। उसका पेडू मरोड़ खाने लगा। टीना का चेहरा तमतमा गया और आखें चढ़ गयी। उसकी कमर अंदर बाहर होने लगी। मैं समझ गया की टीना का माल छूटने वाला है। मैं और जल्दी जल्दी उसकी चूत में ऊँगली करने लगा। फिर दोस्तों कुछ देर बाद टीना की चूत का झरना बहने लगा और उसका पानी कीसी पिचकारी की तरह झर्र झर्र बाहर निकलने लगा। मुझे ये देखकर मौज आ गयी यारों। मैंने फिर से अपना हाथ टीना की चूत में डाल दिया जैसे जैसे मैं हाथ चलाता वैसे वैसे झर्र झर्र पानी टीना की चूत ने निकलता। मैं किसी आवारा कुत्ते की तरह उसका सारा माल पी गया। मेरा चेहरा मेरी सामान टीना की चूत के पानी से भीग चूका था। मैंने देखा उसका बदन अकड़ गया था और चेहरा लाल हो गया था।

टीना थोडा सुस्त लगने लगी और क्लासरूम के फर्श पर लेट गयी। वो गहरी सासें ले रही थी क्यूंकि पानी झड़ने में उसकी काफी ताकत खर्च हो गयी थी। मैं समझ गया की अपनी माल के साथ सम्भोग करने का यही समय है। मैंने उसे वहां से खीच कर थोडा आगे ले गया। क्यूंकि उस जगह पर टीना की चूत का बहुत सारा पानी पड़ा हुआ था। इसलिए मैं उसे वहां चोद नही पा रहा था। तुरंत उसकी चूत में लंड डाल दिया और बहुत होले होले उसे लेने लगा। टीना ने आंखे बंद कर ली और मजे से चुदवाने लगी। मेरे चेहरे को अपने हाथो से बड़े प्यार से छूने और सहलाने लगी। उसकी चूत की फांकें बहुत लाल लाल थी। टीना नंबर १ क्वालिटी की माल थी। वो मेरे चेहरे को सहला रही थी, मैं उसको धीमे धीमे ले रहा था। उधर लाउड स्पीकर में मुझे कॉलेज के प्रोग्राम की आवाजे आ रही थी। इधर टीना संग मैं चुदाई का प्रोग्राम कर रहा था। चुदते चुदते टीना का मुँह खुल जाता था और बड़ा अजीब चेहरा बन जाता था। मेरे धीरे धक्के धीरे धीरे तेज और तेज होने लगे। वो अपने होठ दांतों से चबा रही थी जिसमे वो बेहद चुदासी और सेक्सी लग रही थी। मेरी कमर नाच रही थी और टीना की चूत को चोद रही थी।

“ओह गॉड!! ओह गॉड!!….यस बेबी !!..ओह यस!! कीप इट अप!! डोंट स्टॉप!!” टीना मोन करने लगी। मैं जोर जोर से उसकी चूत में धक्के मारने लगा। पच पच की टीना के चुदने की मीठी आवाज मेरे क्लासरूम में गूंजने लगी। इस समय मेरी माल बिलकुल कोई होर्नी स्लट लग रही थी। मैंने अपना बायाँ हाथ उसके कंधे पर रखा और दांया हाथ नीचे जमींन पर बैलेंस बनाने के लिए और उसे फटाफट फक करने लगा।

“ओह्ह गॉड!! ओह्ह गॉड!!….फक मी हार्डर!!….कमाँन फक मी हार्डर!!….” मेरी माल पूजा गुर्राने लगी। मैंने उसके गाल और मम्मो पर २ ४ चांटे कस कसके मार दिए।

“बिच!! आई विल फक यू वेरी हार्ड!!” मैंने कहा और जोर जोर से मैं धक्के मारने लगा। टीना की चूत अच्छे से चुदने लगी। मेरा लंड और भी जादा मोटा हो गया था और जोर जोर से अंदर तक टीना की चूत में मेरा लंड पहुच रहा था। उसका कुछ गाढ़ा मक्खन जैसा माल मेरे लंड पर लगा गया था जिससे अंदर बाहर होने में मुझे और चिकनाई और फिसलन मिल रही थी। मैंने अपनी गांड हवा में उपर उठा दी और टीना को लेने लगा। इस तरह से मुझे बड़ा स्पेस मिल रहा था। हवा में गांड उठाकर टीना को लेने में दूसरा ही आनंद था। मैंने टीना के मुँह में अपना हाथ डाल दिया और उस बिच [कुतिया] की बत्तीसी पकड़ ली। टीना मेरा काट काटने लगी। इस तरह दोस्तों हम दोनों एक दूसरे को टॉर्चर करके फक करने लगा। कुछ देर धक्के देते हुए मैंने अपना लंड उसकी चूत ने निकाल लिया वरना को प्रेग्नेंट हो जाती। टीना के मुँह और मस्त मस्त दूधों पर मेरा सारा माल किसी पिचकारी की तरह निकल कर गिर गया। टीना मेरे माल को चाटने लगी। मैं क्लासरूम के फर्श पर लेट गया। मुझे इतनी जादा काम उतेज्जना हो रही थी की अपनी सामान को चोदने के बाद भी मेरा लंड डाउन नही हो रहा था और अब भी तना हुआ था। टीना मेरे पास आ गयी और झुककर मेरे लंड को चूसने लगी। वो अपनी जीभ मेरे लंड के सुपाडे में लगा रही थी। और टेस्ट कर रही थी।

कामुक और हॉट सेक्स कहानी  दोस्त की माँ की जबरदस्त चुदाई की एक सच्ची कहानी

फिर मेरी सामान टीना मेरे लंड को मुँह में भरके पीने लगी और जोर जोर से किसी बिच [वेश्या ] की तरह मेरा लंड चूसने लगी। मेरे लंड में अभी भी कुछ माल बचा हुआ था। जैसे जैसे टीना ने अपने सुंदर हाथों से मेरा लंड उपर नीचे करना शुरू किया मेरे लंड से और माल निकलने लगा जो बेहद गाढ़ा था। टीना सारा माल पी गयी और फिर किसी स्लट की तरह अपना मुँह मेरे लंड पर अंदर बाहर करने लगी। उफ्फ्फफ्फ्फ़ !! क्या बताऊँ दोस्तों कितना मजा मिल रहा था। टीना के होठ बहुत सुंदर थे। होठो की पंखुडियां इतनी गुलाबी थी की जिसका कोई जवाब नही था। टीना जोर जोर से मुँह चलाकर मेरा मुख मैथुन करने लगी। मुझे तो जैसे खुमारी चढ़ गयी थी। बड़ी देर तक वो मेरा लंड चुस्ती रही और मेरी गोलियों को मुँह में भरके पीती रही

“अनुज !! मेरी जान !! मुझे चोदने में तुमको मजा आया की नही???’ टीना बोली

“…हाँ जान, बहुत मजा आया!! तुम्हारी बुर दुनिया की सबसे हसीन बुर है!” मैंने कहा

उसके बाद दोस्तों वो जोर जोर से मेरा लंड चूसती रही जैसे कोई लोलीपोप हो। कुछ देर बाद हमारा चुदाई का प्रोग्राम खत्म हो गया। हम दोनों ने अपने अपने कपड़े पहन लिए और दोनों क्लासरूम से बाहर निकल आये। मैने क्लासरूम का दरवाजा बंद कर दिया। अगले दिन जब सारे स्टूडेंट्स क्लास में आये तो फर्श पर पड़ा टीना की चूत से निकला पानी सूख चूका था, पर सफ़ेद सफ़ेद चाशनी जैसे दाग फर्श पर पड़ गये थे। सारे स्टूडेंट्स और टीचर समझ नही पा रहे थे की ये कैसा दाग है। ये बात तो सिर्फ टीना और मैं जानते थे। ये कहानी आपको कैसी लगी, अपनी कमेंट्स नॉन वेज स्टोरी डॉट पर जरुर दें।

Sex kahani school ki, school girl sex story, chudai school ki ladki ki, school girl friend sex story, mast school chudai story in hindi