लॉक डाउन में पापा ने मुझे मम्मी समझ कर चोद दिया नशे में

मैं प्रिया 22 साल की हूँ। घर में माँ पापा और मैं हूँ। आज मैं आपको अपनी एक सच्ची सेक्स कहानी सुनाने जा रही हूँ। ये कहानी ज्यादा पुरानी नहीं है कल की ही ऐसे मेरे पापा ने मुझे चोद दिया (Father Daughter Sex Story) ये कहानी सच्ची चुदाई की कहानी है जो आपलोगों के साथ शेयर कर रही हूँ। ये मेरी पहली कहानी है नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पर अब मैं सीधे कहानी पर आती है।


दोस्तों आपको पता है आजकल कोरोना वायरस की वजह से पुरे देश में लॉक डाउन है। मैं दिल्ली में रहती हूँ यहाँ का हालात और खराब है इसलिए सभी दुकाने बंद है। शराब की दूकान खुल गई है यही वजह रही मेरी चुदाई की लॉक डाउन के चक्कर में मुझे मेरे पापा ने चोद दिया।

बात कल की है मेरे पापा रात कोई काफी ज्यादा दारु पीकर घर आये। क्यों की बंद की वजह से दारु नहीं मिल रहा था और जिस दिन मिला उस दिन वो शाम को अपने दोस्तों के साथ कुछ ज्यादा ही चढ़ा लिए।

रात को घर आये मेरी नानी भी मेरी ही सोसाइटी में रहती है वो माँ वही खाना देने चली गई। बोल कर गई थोड़ा समय लगेगा। पापा मम्मी के जाने के करीब दस मिनट बाद ही आ गए थे। गलती ये हुई की मैं मम्मी की नाईटी पहन रखी थी। क्यों की सारे कपडे धूल गए थे। मेरे पास पहनने के लिए नहीं थे तो सोची रात है मम्मी की नाइटी ही पहन लेती हूँ। पहले कभी पहनी नहीं थी।

उसी समय लाइट चली गई थी तो मैं कमरे में लेटी थी। और नींद आ गई। अचानक से देखि पापा मेरे ऊपर चढ़ गए थे अन्धेरा होने की वजह से वो मुझे सही से नहीं देखे मोबाइल की लाइट में ही वो देखे उनको लगा की मम्मी है। क्यों की उनकी नाईटी पहनी थी।

उन्होंने नाईटी ऊपर कर दी। जैसे ही मैं बोलने की लिए सोची उन्होंने मेरा मुँह दबा दिया। मैं टस से मस नहीं हो पाई क्यों की वो पहलवान है हरियाणा के तरफ से वो पहलवानी भी कर चुके है। उनकी पकड़ ऐसी थी की मैं हिल नहीं पाई और उन्होंने मेरा मुँह बंद कर रखा था और मेरी दोनों टांगो को अलग अलग किया। अपना लौड़ा निकाला और जोर से मेरी चूत में घुसा दिया। उन्होंने कहा आज तो तेरी चूत काफी चोखे लग रहे हैं। मेरी चूत काफी टाइट थी। क्यों की दो तीन बार ही चुदी हूँ इसके पहले अपने कॉलेज के दोस्त से।

कामुक और हॉट सेक्स कहानी  Chachi ki Chudai : चाय बनाते बनाते मदमस्त चाची की गांड चोद डाली

वो शराब के नशे में थे तो उनको पता ही नहीं चला की वो अपनी पत्नी को नहीं बल्कि अपनी बेटी को चोद रहे हैं। अब उनका लौड़ा अंदर बाहर जाने लगा। जोर जोर से मेरी चूत में पेलने लगे। पहले मैं काफी छुड़ाने की कोशिश की तो सब व्यर्थ गया।

अब करती क्या मैं शांत हो गई और जोर जोर अंधरे में मुझे चोदने लगे। जोर जोर से और ये भी कह रहे थे की चुप रह प्रिया सुन लेगी तो क्या कहेगी पापा मम्मी को चोद रहे हैं। मैं चुपचाप हो गई। वो जोर जोर से अपना लौड़ा मेरी चूत में घुसाने लगे। अब मुझे भी अच्छा लगने लगा मेरी चूत गीली होने लगी।

अब मुझे भी अच्छा लगने लगा क्यों की पहलवान कभी भी बूढ़ा नहीं होता ,लौड़ा भी पापा जी का मोटा और लंबा था और लौड़े में ताकत भी थी तो मेरी पूरी चूत के अंदर जा रहा था उनका लौड़ा शायद किसी जवान लड़के का भी लौड़ा ऐसा नहीं होगा जैसा की मेरे पापा जी का है।

अब मैं मजे लेने लगी नाईटी ऊपर कर दी और चूचियां भी ब्रा से बाहर कर दी। अब वो मेरी चूचियां भी मसलने लगे चूचियां मसलते ही मेरे शरीर में बिजली दौड़ गई। अब मैं और भी ज्यादा कामुक हो गई। वो जोर जोर से पेलने लगे पुरे कमरे में फच फच की आवाज आने लगी मैं भी गांड उठा उठा कर चूत मरवाने लगी।

वो चूचियां मसलते हुए बोले तुम्हारी चूचियां भी कितनी टाइट हो गई है। मैं कुछ भी नहीं बोली और बोले ऐसी लग रही है जैसे की किसी अठारह साल की लड़की की हो। मैं निचे से धक्के दी वो वो ऊपर से दिए।

कामुक और हॉट सेक्स कहानी  सौतेली बहन को २ महीने तक चोदकर अपने लौड़े की गर्मी शांत की

बोले कहा से सीखी है ऐसे तो पहले कभी नहीं चुदवाई मैं तो तुम्हे पचीस साल से चोद रहा हूँ। दोस्तों वो नशे में थे तो कुछ से कुछ कह रहे थे पर ठुकाई वो सही कर रहे था। मुझे भी यही चाहिए थे। सिर्फ ठुकाई क्यों की समय कम था मम्मी भी आने वाली थी।

अब मैं जोर जोर से धक्के निचे से देने लगी। और वो भी जोर जोर से लौड़ा घुसाने लगे। अचानक हम दोनों की स्पीड बढ़ गई। अब मेरे मुँह से भी सिसकारियां निकलने लगी पर मैं आवाज भी नहीं कर सकती थी। मेरी साँसे तेज तेज चलने लगी। वो भी आह आह आह करते हुए जोर जोर से पेल रहे थे मेरी चूत में।

चोदते हुए कह रहे थे मजा आ गया। दारु कितने दिन बाद मिला और आज तेरी चूत भी अच्छी लग रही है। और आह आह करने लगे और जोर जोर से चोदने लगे। मैं भी तेज तेज निचे से धक्के देने लगी। गांड गोल गोल घुमाने लगी। अब दोनों ही मजे ले रहे थे चुदाई का।

तभी अचानक पापा जी ने आवाज निकाली आआआआ ओह्ह्ह्हह्हह उफ्फ्फ्फफ्फ्फ्फ़ और सारा माल मेरी चूत में ही छोड़ दिया। मैं भी शांत हो गई क्यों की मेरी चूत से भी पानी छूट चुका था। मेरी साँसे तेज तेज चल रही थी और पापा निढाल होकर बेड पर पड़ गए। और तुरंत भी खर्राटा लेकर सो गए।

मैं तुरंत उठी चूत को बाथरूम में साफ़ किया ताकि कुछ गड़बड़ नहीं हो जाये। पर आज एक टेबलेट खा ली हु ताकि सब सही रहे।

कामुक और हॉट सेक्स कहानी  भाई ने मेरी चूत में लंड घुसाया जब मम्मी पापा बाहर गए : सच्ची कहानी

मैं अपने कमरे में आ गई और सो गई तभी मम्मी आ गई। हम दोनों खाया पापा जी नींद में थे। हमदोनो ने नहीं उठाया। पर एक बात का डर था कही आज मम्मी से पूछ लिए कल की चुदाई के बारे में जिसमे उन्होंने मम्मी को चोदा ही नहीं था। तो मैं फंस सकती थी।

पर हैरानी की बात ये रही की पापा खुद ही बोल रहे थे कल ज्यादा पि ली थी कब घर आया कब सोया पता ही नहीं चला। मैं बोली थैंक गॉड।

मैं अपनी दूसरी कहानी जल्द ही नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पर लिखने वाली हूँ आशा करती हु इससे भी हॉट और सेक्सी होगी मेरी सेक्स कहानियां।