टांगे फैलाकर सोई थी बेटे से रहा नहीं गया और माँ चोद दिया


माँ की चुदाई की कहानी, सोये हुए माँ को चोदा बेटे ने, Village Mother Son Sex, Ma Bete ki Sex Kahani: आज मैं एक मादरचोद यानी मेरा बेटा जो रात को मुझे चोद दिया। कहानी बताने जा रही हूँ। रात को ऐसा क्या हुआ कैसे हुआ और कब हुआ सब आपको नॉनवेज स्टोरी पर बताने वाली हूँ। ये मेरी सच्ची कहानी है आशा करती हु आपको ये मेरी चुदाई की कहानी हॉट (Chudai Hot Sexy) और सेक्सी लगेगी।


मेरा नाम माया है और मैं 37 साल की हूँ। मेरा एक बेटा है जो की 21 साल का है। मेरी शादी 16 साल में ही हो गयी थी इसलिए जल्दी ही माँ भी बन गयी थी। मेरा पति की पोस्टिंग जम्मू कश्मीर में है वो मैं अपने बेटे के साथ लखनऊ में रहती हूँ। लखनऊ के पास ही एक गाँव है वही।

दोस्तों शादी तो पहले हो गयी और बेटा भी हो गया। पर जिस्म का क्या करें अभी 37 की हूँ। जवान से कम नहीं लगती हूँ हॉट और सेक्सी हूँ। सच तो ये है मेरा पति भले ही मेरे से बहुत बड़ा है। कोई नहीं कहता की मेरा पति इतना बूढ़ा होगा। क्यों की म मेरा शरीर हॉट और सेक्सी है। पढ़ी लिखी हूँ बीए पास हूँ।


Ma Beta Sex -अब मैं सीधे कहानी पर आती हूँ। कल रात की बात है मैं निचे सो रही थी। और मेरा बेटा छत पर सो रहा था। मैं कभी भी छत पर नहीं सोती। पर मेरा बेटा छत पर ही सोता है। उसको भी छत पर मुठ मारने में दिक्कत नहीं होती है और मैं भी इस वेबसाइट पर यानी नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पर कहानियां पढ़ कर चूत सहलाते सहलाते हुए सोती हूँ। क्यों की पति तो पास है नहीं और रहती हूँ गाँव में तो चुदाई का जुगाड़ भी नहीं हो पाता है।

तो दोस्तों कल रात को मैं कहानियां पढ़ रही थी। मेरी कामुक दीदी और मैं chut सहला रही थी। बहुत ही हॉट कहानी थी। तो रहा नहीं गया और मैं अपना पेंटी खोलकर और नाईटी को ऊपर कर के चूत सहला रही थी और ऊँगली कर रही थी। जब जोश में आ गयी तो चूत से पानी निकला और मैं सो गयी। नाईटी वैसे ही ऊपर ही रह गया पेंटी चारपाई के निचे थी। और दोनों टाँगे फैला रखी थी। और नींद में थी।

इसे भी पढ़ें  मेरे जेठ से मुझे मेरी सुहागरात पर चोदा और पति का धर्म निभाया

तभी रात में वारिश होने लगी और छत पर से मेरा बेटा निचे आ गया सोने। तो लाइट भी जली हुई थी। उसने मुझे देखा और शायद वो अपने आप पर काबू नहीं रख पाया। ऐसा कौन काबू रख पायेगा दोस्तों जब चूत सामने हो दोनों पैर फैला कर कोई औरत सो रही हो। तो सामने वाले क्या करेगा। जानवर भी चोद दे ऐसे में तो इंसान की भला क्या बात।

जब मेरी नींद खुली तो देखी उसने मेरी नाईटी और ऊपर कर दिया और मेरी बड़ी बड़ी हॉट और सेक्सी चूचियां निहार रहा था अपना लंड हाथ में लेकर हिला रहा था और दोनों टांगो के बिच में घुटनो पर बैठा था। जैसे मेरी नींद खुली तो हैरान रह गयी पर गलती तो मेरी थी। मैं भी चूत खोल कर सो रही थी। मैं उठना चाही उसने कहा मुझे चोदना है। मैं बोली माँ हु तेरी, ये गलत है ऐसा तुम नहीं कर सकते तब तक वो पैम्पर हो चुका था।


और उसने मेरी चूत पर लंड लगा कर मेरे दोनों हाथ पकड़ लिया और जोर से धक्का दे दिया। वो मजबूत है जिम जाता है। मैं रोक नहीं पाई और उसने जोर से घुसा दिया और उसका पूरा लंड मेरी चूत में समा गया। उसके बाद अंदर बाहर अपने लंड को करने लगा। लंड मोटा था तो चुत की दीवारों से सट कर जा रहा था घर्षण हो रहा था। मैं मोटे लैंड को चूत में ले ली और और कामुक होने लगी। (Mother Son Sex Story Village)


इसे भी पढ़ें  जेठ ने खेला प्यार भरी चुदाई वाला खेल

मेरे दांत खुद ही मेरे होठ को काटने लगे. मैं अपने बेटे को बहकी निगाहों से देखने लगी। मैंने और भी ज्यादा पैर फैला दी। और गांड हौले हौले उठाने लगी और मदद करने लगी उसको चोदने में। दोस्तों थोड़े देर में ही मैं पागल हो गयी। उसको इशारा की मेरा दूध पि मेरी चूचियां चाट, उसने तुरंत भी मेरी चूचियों को मसलने लगा और जोर जोर दबाने लगा फिर वो मेरी चूचियों को मुँह में ले लिया।

ऊपर से झटके दे रहा था ऊपर से मेरी चूचियां (Boobs Press) मसल रहा था। मैं कह रही थी और जोर जोर से और जोर से। वो भी तेज हो गया और जोर जोर से धक्के देने लगा. मैं ह्या ह्या ह्या उफ़ उफ़ उफ़ ओह्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह करने लगी। वो खुद भी पागल होने लगा। अपना दांत पीसकर पीसकर कर मुझे चोद रहा था।


उसके बाद मैं खुद ही उसको निचे सुला दी। और मैं खुद चढ़ गयी और जैसे की घोड़े पर बैठता है इंसान वैसे ही मैं अपने बेटे के लंड पर बैठ गयी और वैसे ही हिलने लगी जैसे की कोई घोड़े पर चढ़ कर जाता है। (Kamuk Sex Story )ओह्ह्ह्हह्हह क्या बताऊँ दोस्तों मजा आ गया। बाहर बारिश हो रही थी और अंदर घर में माँ अपने बेटे से चुदवा रही थी। मैं चाह रही थी अपने बेटे को फिर से समेट कर अपने छूट में घुसा लूँ ऐसी मैं पागल हो गयी थी।

उसने मुझे निचे से जोर जोर से धक्के दे रहा था और दोनों हाथों से मेरी चूचियों को थामे हुए था मैं उसके सीने को सहला रही थी और जोर जोर बैठ रही थी। पूरा लौड़ा मेरी चूत में समा रहा था। और मैं पागल हो रही थी। फिर मैं घोड़ी बन गयी और वो मेरे गांड के तरफ आ गया। पहले तो मेरी गांड को चाटा फिर लौड़ा लगा कर फिर से चुत में पेल दिया। और गांड पर थप्पड़ मार मार कर धक्के देने लगा।

इसे भी पढ़ें  प्यासी चूत : भैया ने चूत की प्यास बुझाई

मैं हिल रही थी मेरी चूचियां आगे पीछे हो रही थी। एक हाथ से अपनी चूचियां भी दबा रही थी और एक हाथ से अपने शरीर की वजह को भी थाम रही थी। उसके बाद वो आआ आआ आए आए आए ऊऊओ करने लगा और पूरा का पूरा माल मेरी चुत में डाल दिया और निचे गिर पड़ा। मैं भी ठंडी हो रही थी पर अपने बेटे के लैंड को चाटना चाहती थी तो तुरंत भी पकड़ ली और चाटने लगी।

वो अपने लौड़े से सारे वीर्य को जो बाकी रह गया था वो दबा दबा कर निकाल रहा था और मुझे चटा रहा था। खूब चुदी रात में। आज दिन में एक बार फिर से वो मुझे चोद चूका है। पर हां मैंने कहा दिया अब चोदेगा तो कंडोम लाना पडेगा। वो शाम को कंडोम ही लाने लगा पर दोस्तों के साथ वो मस्ती कर रहा होगा।

आज क्या होगा फिर से आपको नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पर बताउंगी।तब तक के लिए धन्यवाद। Hindi Hot Sexy Kahani Mother and Son Sex Story