बेटी को चुदवाया अपने यार से चुत की सील भी टूटी मेरे सामने

Ma Beti ki Chudai kahani : दिनांक 2 अप्रैल 2020 चुदाई की कहानी है। आज मैं आपको अपनी एक सेक्स कहानी आपको सुनाने जा रही हूँ। ये कहानी मेरी भी है और मेरी बेटी की भी है कैसे मैंने अपने यार से खुद भी चुदवाइ और अपनी बेटी को भी। दोस्तों यहाँ तक की मेरी बेटी की चुत की सील भी मेरे सामने ही टूटी है आज मैं आपको अपनी पूरी कहानी बताने जा रही है।

आपको अपनी पूरी कहानी बताउंगी कैसे मैंने अपनी Beti ki Chudai अपने भी यार से करवाई और कैसे उसने मेरी बेटी की Chut ki Seal तोड़ी ये कहानी ज्यादा आपको हॉट और मदमस्त कर देगी ये गारंटी है।

मेरी लव मैरिज थी। पति निकम्मा और एक नंबर का हरामी निकला वो मुझे फंसा कर मेरी ज़िंदगी बर्बाद कर दिया था। मैं तो 18 साल तक यही सोचती रही अब ठीक हो जायेगा अब ठीक हो जायेगा पर वो ठीक नहीं हुआ और धीरे धीरे कर के वो पीने लगा। काम भी कम करने लगा। और दिन भर गलियां और मारता था मुझे।

मैं तंग आ गई थी अब घर में जवान बेटी थी वो जब पीता था तब वो मेरी इज्जत के साथ भी खेलता था वो मेरी बेटी के सामने ही मेरी चूचियां दबा देता था। फिर मैं पार्ट टाइम नौकरी करने निकली। वह मेरी मुलाक़ात विकास जी से हुआ वो बहुत ही अच्छे इंसान हैं। धीरे धीरे मैं उनसे प्यार करने लगी और फिर हम दोनों के बिच जिस्मानी रिश्ता भी हो गया।

अब मैं अपने पति को छोड़ने का मन बना लिया। और केस फाइल कर दी तलाक का। छह महीने में हम दोनों को तलाक मिलना था। विकास जी का फ्लैट है नोएडा में तो हम माँ बेटी नोएडा आ गए थे क्यों की बेटी का पेपर था।

पर कोरोना की वजह से सब कुछ बंद हो गया था इस वजह से हम दोनों विकाश जी के फ्लैट पर ही रुक गए विकास जी की पत्नी बहुत पहले ही डेथ कर गई इसलिए वो अकेले ही रहते हैं नॉएडा में।

करीब 13 दिन से नॉएडा में ही है। अब मैं विकास जी के साथ ही सोती हूँ मेरी बेटी अलग कमरे में सोती है। वो मेरी रोज चुदाई करते हैं। खूब मजे ले रही थी। उन्होंने मेरे नाम से 10 लाख का फिक्स डिपाजिट करवा दिया मैं खुश हो गई।

पर इन्हीं दिनों उनको मेरी बेटी पूजा जो को अठारह साल की है उनपर भी डोरे डालने लगे। और पूजा भी उनसे प्यार करने लगी।

२ अप्रैल की बात है उन्होंने मुझे बताया की मैं तुम्हारे साथ साथ पूजा को भी चाहने लगा हूँ और आज पूजा को पहली बार चुदाई करूंगा। इसलिए तुम भी साथ दो ताकि हम तीनो साथ रह सकें और मेरे पास जो भी पॉपर्टी है वो तुम्हारी ही रहे और देखो मैंने तुम्हारे लिए दस लाख का तुम्हारे नाम का फिक्स भी करवा दिए हैं।

मैं सोची क्यों ना इनकी बात को मान लिया जाए रही ब्बात पूजा की तो अब वो जवान हो गई है उसे भी हक है अपनी ज़िंदगी जीने का कही शादी करुँगी उसकी और लड़का सही नहीं मिला तो मैं खुद ही मुश्किल में पड़ जाउंगी इन वजहों से मैंने भी हां कर दिया।

दोपहर को वो पूजा के साथ सोये हुए थे। और वो उसकी चूचियां दबा रहे थे। मैं नहाने गई थी तभी पूजा की चीखने की आवाज आई मैं तुरंत बाथरूम से निकली यहाँ तक की मैं कपडे भी नहीं पहनी थी ब्रा और पेंटी में भी भाग कर आ गई देखने क्या हुआ।

देखा विकाश जी पूजा की चूचियों को सहला रहे हैं और कह रहे हैं अब दर्द नहीं होगा और समझा रहे थे। करीब जाकर देखि तो पूजा के चुत से खून निकल रहा था और उसके आँख में आंसू थे। मैं बोली थोड़ा इंतज़ार कर लेते आने देते आपको पता है ये कुंवारी है दर्द हो रहा होगा और आपने मोटे लंड से इसकी चुत फाड़ दी। वो विकास जी बोले मैं तो बोला ही था रात को तोड़ेंगे तुम्हारी सील पर ये बोली नहीं नहीं चोदो मुझे चुत में खुजली हो रही है।

इसलिए मुझे अभी भी चोदना पड़ा और ये हो गया।

अब मैं वेसलिन लाइ और विकास जी के लौड़े पर लगाईं और पूजा के चुत में भी। और फिर मैं खुद ही हेल्प करि पूजा को चुदने के लिए।

दोस्तों विकास जी मुझे भी और मेरी बेटी को भी दोनों को चोदे। पूजा का सील टूट गया। अब वो आराम से चुदवा रही थी। गजब की है मेरी बेटी पूजा। गोरा बदन बड़ी बड़ी चूचियां मदमस्त शरीर गजब की चुड़क्कड़ भी है और आह आह आह ऐसे करती है मानो सनी लिओनी हो।

अब तो करना के चक्कर में नोएडा में ही हूँ और माँ बेटी विकास जी को खुश कर रही हूँ। कुछ ही दिनों में हो सकता है हम दोनों का पति वो बन जाये। नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पर ये मेरी पहली कहानी है दूसरी कहानी भी जल्द ही लेके आने वाली हूँ।

www.merisexkahani.com तड़पती जवानी की सेक्स कहानी महिलाओं के द्वारा भेजी गई यहाँ क्लिक करें !