Home » Antarvasna Sex Stories » कल रात मेरा भाई जमकर चोदा अपने 9 इंच के हथियार से

कल रात मेरा भाई जमकर चोदा अपने 9 इंच के हथियार से

Indian Bhai Bahan Real Sex Story : जैसा एडल्ट फिल्मों में देखती हूँ विदेशियों को, मोटे और लम्बे लंड से लड़की को चोदता है वैसे ही कल रात मेरा भाई मुझे जमकर चोदा और मुझे सबसे अच्छा लगा अपने भाई के लंड की सवारी कर के। जब आप मेरी पूरी कहानी पढ़ेंगे तो आपको समझ आएगा दुनिया कितनी बदल गई है रिश्ते में भी चुदाई होने लगा है अपनी सेक्स की भूख को लोग आजकल कैसे अपने परिवार में ही पूरा कर रहे है। अगर आप भी मेरी जगह पर रहतीं तो जरूर अपने ही भाई से चुद जाती। आइये बिना देर किये मैं अपने नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम के मित्रों को अपनी चुदाई की कहानी जल्दी से जल्दी बताऊँ। मुझे भी बहुत अच्छा लगेगा। कैसे मेरा भाई अपने मोटे लम्बे 9 इंच के जबरदस्त लंड से मेरी चुदाई की वो भी कल रात।

परिचय पहले दे दूँ मैं कौन है :- मेरा नाम मोनिका है मैं 28 साल की हूँ मैं बहुत ही हॉट और सेक्सी लड़की हूँ अभी मैं कुंवारी हूँ पर हाँ दिसंबर में शायद में शादी हो जाये। अभी जबरदस्त दिखती हूँ बहुत ही गोरी हूँ लम्बे बाल है। मैं चौतीस साइज की ब्रा पहनती हूँ मेरी चूचियां गोल गोल और बहुत टाइट है। निप्पल का रंग पिंक है मेरे होठ फुले हुए और बहुत ही सेक्सी है सुर्ख गुलाबी होठ ऐसा लगता है जैसे की वाइन हो। मेरे गाल गुलाबी है आँखे काली काली बहुत ही सेक्सी सुंदरता और शरीर की मालकिन हूँ। मेरी गांड यानी चूतड़ का उभार बाहर की तरफ है और जब चलती हूँ किसी का भी मन ख़राब हो जाए। मेरी अदाएं बहुत ही कातिलाना है। मैं बहुत हॉट और सुन्दर लड़की हूँ मुझे रील बनाना बहुत पसंद है और मैं अपने जिस्म को खुलकर दिखाती हूँ। मेरा चीज मैं क्यों ना दिखाऊं मेरी ये सोच है। और इसी सोच के सब पागल हुए जा रहे हैं सोशल मीडिया पर मेरे बहुत फॉलोवर है।

सेक्स कहानी का नाम :- Indian Bhai Bahan Real Sex Story नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पर : आपको तो पता चल ही गया है मेरा भाई मुझे चोदा पर ये सब कैसे हुआ ये आपको बताने जा रही हूँ। मैं लखनऊ की रहने वाली हूं। मेरी पढ़ाई पूरी हो चुकी है मैं इंटरव्यू देने के लिए नोएडा अपने भाई के पास आई हुई थी। मेरा भाई नोएडा में रहता है इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहा है मेरे से 5 साल छोटा है। मैं बहुत ही अमीर घर की हूं किसी चीज की कमी नहीं है इसलिए पापा ने उसको नोएडा में एक फ्लैट खरीद के दे दिया ताकि वहीं रहकर अपने कॉलेज पूरा करें।

गरमा गर्म सेक्स कहानी  मेरा भाई रोज मेरी चूत में लंड घुसाता था

नोएडा में वह अकेले ही अपने फ्लैट में रहता है। मैं अपने भाई के पास करीब शाम को 6:00 बजे पहुंचे थी। भाई मेरा बहुत खुश हुआ मुझे देखकर मुझे भी बहुत ख़ुशी हूँ। और मैंने अपने भाई को गले से लगा ली। मेरी बड़ी बड़ी चूचियाँ जैसे ही उसके सीने से लगी उसी समय से उसका नजर मेरी चूचियों पर टिक गया। मेरी हॉट और सेक्सी चूचियों को देखकर शायद वो दीवाना हो गया था। अब वो मेरे ऊपर नजर रख रहा था। जब जब मैं चलती थी वो मेरी गांड के तरफ तो कभी वो मेरी चूचियों की तरफ देखता था। मैं उसको इग्नोर कर रही थी।

एक दो बार जैसे ही नजर मिली उसने तुरंत ही नजर चुरा लिया। रात को करीब दस बजे खाना खाये मम्मी पापा से वीडियो कॉल पर बात किये और फिर सोफे पर बैठ कर उससे बाते करने लगी। उसकी नजर पहले की तरफ मेरी चूचियों पर था। मैं ड्रेस बदल ली थी अब और भी सेक्सी लग रही थी। मेरा नाईट ड्रेस काफी हॉट और सेक्सी था चूचियां और भी साफ़ साफ़ दिख रही थी। आखिरकार मैंने उसको पूछ ही लिया क्यों खोये खोये से हो विशाल? उसने कहा नहीं नहीं दीदी ऐसी कोई बात नहीं है। तो मैंने उससे कहा तुम बार बार मुझे निहार रहे हो आखिरक्या बात है।

उसने कहा दीदी आज आप बहुत ही सुन्दर लग रही हो। आज मुझे बहुत अच्छा लग रहा है आप आये मुझे बहुत ख़ुशी हो रही है और आपने आज मुझे गले लगाया वो बहुत ही अच्छा था मैं आज आपको गले लगा कर बहुत खुश हूँ। मैं बोली तू मेरा छोटा भाई है मैं तुमसे बहोत प्यार करती हूँ गले लगाना तो बहुत छोटी बात है। तुम्हारी हर जरुरत को मैं हमेशा पूरा करुँगी जो मेरे पास होगा और मेरे वश में होगा। वो खड़ा हो गया और हाथ फैला दिया। उसने कहा तो फिर से आप अपनी बाहों में मुझे भर लो। मैं थोड़ा सकपका सी गई क्यों की वो काफी अग्ग्रेसिव हो गया था और उसके होठ हिल रहे थे और उँगलियाँ काँप रही थी।

गरमा गर्म सेक्स कहानी  दीदी ने मेरे लिए चूत का इंतजाम किया और अपनी सहेली को चुदवाया

मुझे लगा की मना करना ठीक नहीं रहेगा और मैंने उसको अपनी बाहों में ले ली। मैंने उसके पीठ पर हाथ फेरे मेरी चूचियों उसके छाती से चिपकी हुई थी और ऊपर से बाहर निकल रही थी क्यों की मेरा गला बहुत खुला था ड्रेस का उसकी नजर मेरी चूचियों पर पड़ी और मुझे अपनी तरफ खींच लिया और मेरे पीठ को सहलाने लगा वो मेरी ब्रा के पट्टी को फील कर रहा था। वो मुझे छोड़ नहीं रहा था। वो अपनी बाहों में भर लिया था मैं बोली भी अब छोड़ दो पर उसने मुझे नहीं छोड़ा उसकी साँसे तेज तेज चलने लगी थी।

मैं समझ गई थी आज कुछ गड़बड़ होकर ही रहेगा उसकी सांस और भी तेज तेज चलने लगी और बोला दीदी मैं सच में आपसे प्यार करता हूँ। भाई बहन वाला नहीं बॉयफ्रेंड और गर्लफ्रेंड वाला मैं आपके साथ सेक्स करना चाहता हूँ। मुझे सब कुछ ज़िंदगी में मिला पर आजतक मैंने कभी सेक्स नहीं किया मेरे सारे दोस्त सेक्स कर चुके है मैं सिर्फ नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पर कहानियां पढता हूँ। मैंने सोचा अगर मना कर दी तो पता नहीं वो क्या करेगा और मैंने कहा ठीक है पर ये बात तुम किसी को कहना नहीं आज मैं पहली बार सेक्स करुँगी तेरे साथ फिर कभी मुझे नहीं कहना आज के बाद हम दोनों भाई बहन भूल जाएंगे की हम दोनों के बिच कुछ हुआ था।

उसने कहा ठीक है बस आज की रात। इतना कहते ही उसने मुझे किस करना शुरू कर दिया और उसके हाथ मेरी चूचियों पर आजकर टिक गया। धीरे धीरे उसने हुक खोल दिया मेरे ड्रेस बाहर निकाल दिए ब्रा खोल दी हम दोनों बैडरूम में चले गए मैं लेट गई वो मेरे ऊपर चढ़ गया और मुझे वाइल्ड तरीके से चूमने लगा। मैं भी साथ देने लगी और उसके लंड को पकड़ ली। मुझे से रहा नहीं गया उसके लंड को अपनी मुँह में ले ली बहुत मोटा और लम्बा लंड था। गायब का मैं पानी पानी हो गई मेरी चुत काफी गीली हो गयी थी।

गरमा गर्म सेक्स कहानी  भाई ने चोदा जब मैं सो रही थी

मैं तुरंत ही उसके लंड को पकड़ पर अपनी चूत की छेद पर लगाया और बैठ गई वो निचे था मैं उसके ऊपर जैसे ही उअका मोटा लंड मेरी चूत के अंदर गया मेरे शरीर की अन्तर्वासना भड़क गई मैं गांड गोल गोल घुमाने लगी और लंड को खुद से ही अंदर बाहर लेने लगी मेरे मुँह से सिसकारियां निकलने लगी ओह्ह्ह्हह्ह्ह्ह उफ्फ्फफ्फ्फ़ अअअअअअअ ऊऊऊओ उफ्फ्फ्फफ्फ्फ़ हूऊऊऊ ऐसी सेक्सी आवाज से मेरे भाई का लंड और भी मोटा हो गया मेरी छूट काफी टाइट होने की वजह से लंड रगड़ खाकर अंदर जाता और बाहर आता पर मुझे जबरदस्त मजा आने लगा था।

मेरा भाई मेरी चूचियों को दोनों बातो से मसल रहा था मेरे बाल उसके जिस्म पर लोट रहे थे मैं गांड घुमा घुमा कर चुदवा रही थी। मुझे अपने भाई की लंड को सवारी कर के बहुत अच्छा लगा था। मैं जोर जोर से धक्के दे दे कर चुदवा रही थी। फिर भाई मुझे निचे आने को कहा और मैं निचे लेट गई और उसने पहले दोनों टांगो को ऊपर उठाकर पहले चूत को करीब 10 मिनट तक चाटते रहा। चुदाई की वक्त मेरी चूत गीली हो चुकी थी और सफ़ेद मक्खन भी निकलने लगा था मेरा भाई मेरी चूत को अच्छे से चाट कर साफ़ कर दिया था।

फिर दोनों पैरों को अपने कंधे पर रखा और जोर से लंड को मेरी चुत के अंदर पेल दिया मुझे दर्द का एहसास हुआ पर जो तीन झटके के बाद ही मैं भड़क गई और निचे से ही धक्के देने लगी और गांड गोल गोल घुमाने लगी। करीब दो घंटे की चुदाई पर बाद मैं भी तक गयी और मेरे भाई का वीर्य झड़ गया मैं आखिर में लंड को चूस कर सो गई। गजब की चुदाई थी मजा आ गया। आज रात देखिए क्या होता है मैं आपको जरूर बताउंगी अपनी दूसरी कहानी के माध्यम से। नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम के सभी दोस्तों को मेरा प्यार भरा नमस्कार