Home » अन्तर्वासना सेक्स कहानी » होली में सगी बहन की चूत में लंड गाड़ दिया और जबरदस्त तरीके से चोदा

होली में सगी बहन की चूत में लंड गाड़ दिया और जबरदस्त तरीके से चोदा

बहन भाई चुदाई कहानी Brother Sister Indian Sex Story : चूत जब टाइट हो, तो चुदाई का मजा कुछ और ही होता है। होली के दिन की कहानी आपको बताने जा रहा हूं। यह कहानी किसी और के बीच का नहीं बल्कि मैं और मेरी बहन के बीच का है। मैंने अपनी छोटी बहन को जबरदस्त तरीके से चोद कर होली का रंग लगाया। चुचियों पर गुलाल लगाया और फिर अपना मोटा लंड बहन की छोटी और टाइट चूत में घुसा कर लंड गाड़ दिया। पूरी कहानी आपको मैं नॉनवेज स्टोरी के माध्यम से बताने जा रहा हूं। आशा करता हूं कि मेरी सच्ची सेक्स कहानी बहन भाई के बीच का वह भी होली के दिन बहुत हॉट और सेक्सी लगेगी इस बात की मैं आपको गारंटी दे रहा हूं।

मेरा नाम रवि है मेरी बहन का नाम सपना है मेरी बहन मेरे से 2 साल छोटी है। मैं बाहर पढ़ाई करता हूं गांव गया था होली का त्यौहार मनाने के लिए घर में मम्मी पापा के अलावा बस मेरी छोटी बहन ही रहती है छोटी बहन भी कॉलेज में पढ़ती है और मैं बाहर इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहा हूं। घर का कोई लड़का जब बाहर आता है तो उसकी इज्जत खातिरदारी बड़े अच्छे तरीके से होती है। मेरे साथ भी ऐसा ही हुआ जब मैं घर पहुंचा तो पापा मम्मी मेरी बहन खूब तारीफ दारी इज्जत दिया। इस वजह से मैं भी थोड़ा गुरुर में आ गया अपनी बहन पर हुक्म चलाने लगा मम्मी को अच्छे से खाना बनाने को कहने लगा पापा भी मेरी बात मान रहे थे।

इसी क्रम में मैंने अपने बहन को बैठा कर बात किया कि तुम अच्छे से पढ़ाई करो ताकि अच्छी जिंदगी तुम जी सको पर मेरा ध्यान उसकी बड़ी-बड़ी और हॉट चुचियों पर था। जवान हो चुकी थी मैं 1 साल के बाद आया तो देखा मेरी बहन सपना किसी हीरोइन से कम नहीं है। मुझे इस बात का डर था कि कहीं मेरी बहन को कोई और ना चूत की सील ना तोड़ दे शादी के पहले। मुझे इस बात की चिंता थी क्योंकि मेरी बहन से कई लड़के बात कर रहे थे मोबाइल पर तो मुझे इस बात का डर था कि कहीं मेरी बहन बहक ना जाए। मुझे लग रहा था कि घर का माल कोई और ना खा ले। इस वजह से मैंने अपनी बहन को चोदने का निर्णय ले लिया।

गरमा गर्म सेक्स कहानी  लॉक डाउन में एक बोतल शराब और चखना के लिए सगी बहन को दोस्त से चुदवाया

दिनभर होली का माहौल रहा मैं पापा मम्मी और सपना तीनों मिलकर हम लोगों ने एक दूसरे को गुलाल लगाया। घर के बाहर भी हम लोग होली खेलने के लिए गए। अपने दोस्तों के साथ मैं होली खेलने के दिन के करीब 1:00 बजे निकल गया। बहुत दिन के बाद दोस्तों से मिल रहे थे इस वजह से थोड़ा समय लग गया रात को करीब 8:00 बजे वापस अपने घर आया। दोस्तों ने मुझे शराब भी पिला दिया था तो मैं नशे में भी था। मुझे लगा कि घर जाकर मम्मी पापा से आज डांट बहुत पड़ेगी वह लोग यही कहेंगे कि तुम अभी घर से गए 1 साल ही हुआ है और तुमने शराब पीना भी शुरू कर दिया इस वजह से मुझे डर लग रहा था।

जब घर पहुंचा तो पता चला मेरे मम्मी पापा 5 मिनट पहले ही नानी घर निकले थे। नानी का बहुत तबीयत खराब हो गया था इस वजह से उन्होंने जल्दी-जल्दी गाड़ी बुलाई और वह दोनों निकल गए सपना बोले कि उन्होंने कहा था कि भैया को बता देने के लिए ऐसे भी वह आपको थोड़ी देर में कॉल करेंगे ही उन्होंने बोला था कि गाड़ी में बैठ कर आराम से मैं उससे बात कर लूंगा तो हो सकता है वह आपको कॉल करेंगे। क्योंकि इसके पहले भी आपको कॉल किए थे आपका फोन नहीं लग रहा था।

ठीक उसी समय मम्मी का फोन आ गया कि बेटा तुम्हारी नानी का तबीयत बहुत ज्यादा खराब है इस वजह से मैं जा रही हूं कल मैं जल्दी से जल्दी वापस लौट आऊंगी। तुम लोगों अच्छे से खाना खा लेना और सो जाना तुम लोग मेरी चिंता मत करना। इतना कह कर उन्होंने फोन काट दिया। मुझे मौका मिल गया था अपनी बहन के साथ अकेला रात गुजारने का। मैंने अपनी बहन को खाना निकालने के लिए बोला क्योंकि खाना ज्यादा खाना नहीं था इस वजह से हम दोनों ने थोड़ा-थोड़ा खाना खाया। उसी समय सपना बोली भैया मैं भी बाहर ही पढ़ना चाहती हूं आप जल्दी से जल्दी मुझे भी कहीं एडमिशन करवा दो मेरी चाहते हो अपनी जिंदगी को अच्छे से बनाना।

मैंने कहा बस इतनी सी बात मैं तुम्हारा एडमिशन एक अच्छे कॉलेज में करवा लूंगा तुम पहले यहां पर इंटरमीडिएट अच्छे से कर लो। क्योंकि हमारे यहां इंटरमीडिएट को भी कॉलेज बोला जाता है। मैंने उसी समय सपना को बोला कि सपना मैं तुमसे बहुत प्यार करता हूं। और आज मैं तुमको किस करना चाहता हूं होली के दिन होली के दिन तो सब कुछ चलता है। सपना बोली कैसा वाला किस चाहिए तुम्हें भाई बहन वाला या प्रेमी प्रेमिका वाला या पति पत्नी वाला। मैंने तुरंत ही कह दिया पति पत्नी वाला किस मुझे चाहिए।

गरमा गर्म सेक्स कहानी  बेटी की चुदाई दारू पीकर गुलाबी चुत को फाड़ा और चोदा

सपना बोली पर यह बात किसी को नहीं पता चलना चाहिए मैंने कहा किसको पता चलेगा आज हम दोनों अकेले हैं। दोस्तों यह बात होते-होते मेरा लैंड खड़ा होने लगा था। मुझे पक्का हो गया था कि आज मैं सपना की चुदाई करके ही रहूंगा। मैंने तुरंत ही सपना को अपनी बाहों में भर लिया हम दोनों खड़े हो गए। मैं सपना के हॉट पर अपना होठ रख दिया हम दोनों एक दूसरे को चूमने लगे। सपना की बड़ी-बड़ी चूचियां पर जैसे ही मैंने हाथ लगाया सपना के मुंह से आवाज आई उफ्फफ्फ्फ्फफ्फ्फ़। यही शब्द मुझे पागल कर दिया था मैंने तुरंत ही अपनी बाहों में भर कर उसकी बड़ी-बड़ी चुचियों को दबाने लगा उसके गांड को सहलाने लगा। आई लव यू सपना मेरी प्यारी बहन आई लव यू तुम्हारे जैसा बहन किसी को नहीं मिलेगा इतना सुंदर तुम हो इतनी प्यारी तुम हो ऊपर से तुम्हें मुझे यह सब करने दे रहे हो ऐसा तो लाखों में एक होता है मैं तुमसे बहुत प्यार करता हूं।

आज मैं तुमको अपनी बीवी बनाऊंगा पूरी रात तुम्हें चोदूंगा सुहागरात मना लूंगा। सपना बोली आज जो तुम्हें करना है कर लो आज मैं भी तुम्हारे लिए उपलब्ध हूं आज तुम मुझे बीवी बनाओ या गर्लफ्रेंड बनाओ चाहे बहन बनाकर ही मुझे चोदो मुझे सब मंजूर है। इतना सुनते ही मैंने सपना को उठा लिया और कमरे में ले जाकर बेड पर लिटा दिया। एक-एक करके उसके कपड़े खोल दिए। मैंने सपना को पूरा नंगा कर दिया गोरा बदन सुनहरे बाल लाल लाल होंठ गुलाबी गाल लंबे काले बाल गोरा बदन। मैं देखकर पागल हो गया तुरंत उसके चुचियों को अपने मुंह में लेकर उसके निप्पल को चूसने लगा उसके होठ लाल हो चुके थे। मैंने तुरंत ही उसके होंठ को छूते हुए उसको गाल को किस करते हुए गर्दन को किस करते हुए बड़ी-बड़ी चूचियां को दबाते हुए मैं जोर जोर से मसलने लगा पीने लगा।

सपना अंगड़ाइयां लेती हुई अपने खुद के दांतो से दबाने लगी। मैंने जैसे ही अपना हाथ उसकी चूत पर रखा उसकी चूत काफी गीली हो चुकी थी काफी गर्म थी। मैंने उसकी चूत में उंगली घुस आया तो पूरी उंगली अंदर चला गया अंदर काफी गीलापन था मैं उंगली निकालकर अपने मुंह में लिया चूत के पानी नमकीन लग रहा था। मुझसे रहा नहीं गया दोनों टांगों के बीच में बैठ कर उसके चूत को चाटने लगा। सपना के मुंह से सेक्सी आवाज निकलने लगा था मुझे चोद दो मेरी चूत चाट ओ मेरी गांड चाट. दोस्तों में पागल हो गया था कभी चूत चाट रहा था कभी गांड चाट रहा था तभी चूचियों को दबा रहा था कभी चुचियों को पी रहा था कभी होंठ को चूम रहा था कभी अपना जीभ उसके मुंह में डाल रहा था।

गरमा गर्म सेक्स कहानी  फेसबुक का यार होटल बुलाया चुदाई के लिए अपना सगा भाई निकला

मुझसे रहा नहीं गया दोनों टांगों को अलग-अलग किया अपना मोटा लंड उसकी चूत के छेद पर लगाकर जोर से घुसा दिया। पूरा का पूरा में जैसे ही दाखिल हुआ दर्द से कराह उठी उसकी चूत से खून निकलने लगा। मेरी बहन पहली बार इस बात का मुझे खुशी थी घर में ही रह गया घर का माल। जोर जोर से धक्के देकर उसके दोनों चूचियों को मसलते हुए जोर-जोर से लंड को अंदर बाहर करने लगा। सपना भी नीचे से धक्के देकर गोल-गोल गांड घुमा घुमा कर मेरा मोटा लंड अपनी चूत के अंदर लेने लगी।

अब मैंने उसको घोड़ी बना दिया और पीछे से उसकी चूत में अपना लंड डाल पर थप्पड़ मारते हुए उसको चोदने लगा। करीब दो घंटे तक अपनी बहन को चोद कर खुद संतुष्ट हुआ और उसको संतुष्ट किया। फिर हम दोनों नंगे ही सो गए। रात में भाई बहन तीन बार चुदाई किये। ये होली मेरे लिए यादगार रहेगा। जब पहली बार मैंने अपना लंड अपनी बहन की चूत में डाल कर खंभे की तरह खड़ा कर दिया था वह पल मुझे जिंदगी में हमेशा याद आएगा। नॉनवेज story.com पर मेरी पहली कहानी है मैं दूसरी कहानी जल्दी इस वेबसाइट पर लिखने वाला हूं तब तक के लिए आप सभी दोस्तों को मेरा प्यार भरा नमस्कार।