फेसबुक पे पटाया होटल में चुदवाया महिला टीचर ने अपने छात्र से

Student Teacher Sex Story, शिक्षिका और छात्र की सेक्स कहानी, स्टूडेंट और टीचर की चुदाई की कहानी : बहुत दिनों से सोच रही थी अपनी कहानी नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पर लिखूं। पर हिम्मत नहीं हो रही थी। सोच रही थी ये अच्छी बात नहीं है। मैं एक टीचर हूँ और अपने से कम उम्र के स्टूडेंट के साथ सेक्स की हूँ। मैंने अपने वासना की भूख अपने से कम उम्र के लड़के से बुझाई। करती भी क्या, कई बार ऐसा हो जाता है की कुछ समझ नहीं आता की क्या करने हैं।

आज मैं आपको पूरी कहानी यहाँ पर आपको बताउंगी की ऐसा क्यों हुआ है। और मैं क्यों पटाई अपने ही छात्र को और अपनी सेक्स की भूख ओयो होटल में मिटाई। ये कहानी ज्यादा पुरानी नहीं है अभी नई है। इसलिए मेरे से रहा नहीं जा रहा है जबतक की आपको अपनी कहानी सूना नहीं दूँ। तो बिना देर किया मैं कहानी पर आती हूँ। पर हां दोस्तों एक बात मैं क्लियर कर देना चाहती हूँ। की ये कहानी मेरी सच्ची कहानी है और इससे पहले मैं कोई भी कहानी आजतक किसी से शेयर नही की हूँ। ना मेरा पेशा है की मैं अपनी बात सब को बताऊँ। पर आज मैं इसलिए यहां पर लिख रही हूँ ताकि आप सबों की भी सेक्स कहानियां मैं रोजाना इस वेबसाइट पर आकर पढ़ती हूँ। इसलिए मेरा फर्ज है मैं भी अपनी कहानी आपको सुनाऊँ।

मेरा नाम दीपिका है मैं एक सरकारी स्कूल में टीचर हूँ। मैं सीनियर क्लास की पढ़ाती हूँ पर मेरी उम्र उतनी ज्यादा नहीं है मैं अभी हॉट और सेक्सी तलाकशुदा एक बच्चे की माँ हूँ। मेरी उम्र मात्र 26 साल है पिछले साल ही मैं अपने पति को छोड़ दी क्यों की वो मुझे खुश नहीं कर पा रहा था चुदाई में। वो जल्दी थक जाता था जब तक मैं गरम भी नहीं होती थी उसका वीर्य गिर जाता था। तो आप ही बताओ कोई क्यों रहेगा ऐसे मर्द के साथ जो अपने पत्नी को चोद भी नहीं पाता हो।

26 साल की उम्र काफी कम उम्र होती है। और पति का साथ या किसी मर्द का साथ नहीं हो तो चूत की खुजली शांत भी नहीं होती है। वासना की आग इस समय ज्यादा धधकती है। प्यार चाहिए इस समय दुलार चाहिए और चुदाई चाहिए तभी शांत रहा जा सकता है। अक्सर इसी उम्र में महिलाएं वेवफा हो जाती है। इस समय जवानी चरम पर होती है और चुदने का मन सबसे ज्यादा करता है। इसलिए अगर आपकी गर्लफ्रेंड या बीवी की उम्र इसके आसपास है तो आप उसको रोजाना चुदाई में खुश कीजिये ताकि आप भी खुश रह सकें।

दोस्तों जैसा की आपको पता है मेरी उम्र 26 है, मैं बहुत ही हॉट और सेक्सी महिला हूँ। गोरा बदन लम्बे बाल चूतड़ चौड़ी और गोल गोल। मैं 34 साइज की ब्रा पहनती हूँ मुझे कट ब्लाउज बहुत ही अच्छा लगा है मैं ऐसी साडी पहनती हूँ जिससे मेरे जिस्म साफ़ साफ़ दिखाई दे। ऐसे भी मैं अपनी साडी नाभि से ऊपर बांधती हूँ ताकि चौड़ी पेट और गोल नाभि साफ़ साफ़ दिखे।जब मैं चलती हूँ तो लोग मुझे मुड़कर देखते हैं। जब मुझे कोई देखता है तो मैं बहोत खुश होती हूँ। मैं अपने तरफ आकर्षित करना चाहती हूँ। जब लोग मुझे घूरते हैं और मेरी बूब्स के उभार को या गांड के उभार को देखते है तो मुझे बहुत हॉट फील होता है।

कामुक और हॉट सेक्स कहानी  Behan Se Sex, Bahan Ko Choda, Bahan Bhai ki Kahani

स्कूल बनठन कर जाती हूँ साडी पहनना जरुरी है। पर मैं सज धज कर जाती हूँ और सेक्सी साडी और ब्लाउज पहनती हूँ। इसलिए मैं सबसे ज्यादा हॉट और सेक्सी दिखने वाली टीचर हूँ अपने स्कूल की। दो तीन मर्द भी टीचर है वो भी मुझे खूब लाइन देते हैं पर मैं कोई भाव नहीं देती हूँ मुझे कम उम्र के लड़के से सम्बन्ध बनाना अच्छा लगता है। इसलिए मैं हमेशा या ये किये हरेक तीन महीने में एक लड़के को पटाने को सोच रही हूँ ताकि हरेक तीन महीने में जवान और अलग अलग तरह के लंड से चुदने का मौक़ा मिले।

मेरे क्लास में एक लड़का है किशन जो की बहुत ही हॉट है वो जिम जाकर अपना बॉडी बना लिया है बाल भी स्टाइल का रखता है अलग अलग सेक्सी स्टाइल के कपडे पहनना उसका शौक है वो बाइक से आता है वो लड़कियों में भी सबसे ज्यादा हीरो और मशहूर है। मेरे से बहुत प्यार से बात करता है और मेरी आँखों में देखते रहता था इसलिए मैंने उसको पटाने की ठान ली। पहने मैंने उसके पसंद नापसंद के बारे में बात चीत की तो समझ आया की वो फेसबुक पर है। मुझे लगा की सबसे आसान तरिका है किसी को पटाने का।

मैंने एक रात उसको फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी अपना फेक प्रोफाइल बना कर। मैंने प्रोफाइल में एक हॉट सेक्सी लड़की का फोटो लगा दी। वो उसी दिन मेरा फ्रेंड रिक्वेस्ट एक्सेप्ट कर लिया। धीरे धीरे हम दोनों बात चीत करने लगे। पूरी पूरी रात उससे चैट करने लगी सुबह जब स्कूल जाती तो कई बार क्लास मिस करने लगा क्यों की शायद वो सुबह उठ नहीं पाता होगा। करीब 10 दिन के बाद उसको मैंने बता दी की मैं उसी शहर में रहती हूँ जहा वो रहता है। और फिर एक दी मैंने उसको मिलने के लिए बुला लिया।

मैंने खुद ओयो होटल बुक की और एक दिन स्कूल छुट्टी लेकर मैं सुबह ही 9 बजे होटल पहुंच गयी। उसको मैंने टाइम 10 बजे का दी। मैं होटल में चेकइन करके एक सेक्स कहानी नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पर पढ़ी ताकि तरीका पता चले क्या करने है कैसे करने हैं। जब उसका आने का टाइम हो गया तो मेरी धड़कने बढ़ने लगी। क्यों की उसको नहीं पता था की एक लड़की बनकर जो रोजाना चैट कर रही थी वो मैं हूँ। डर भी लग रहा था की अगर उसने मुझे देखा और मना कर दिया और ये बात अगर फ़ैल गयी तो मेरी नौकरी भी जा सकती है। पर मैं अपनी वासना की आग में धधक रही थी। मेरे सामने बस एक ही बात आ रही थी की चुदाई करवानी है चाहे जो हो जाए। प्यार से या धमकी से या ब्लैकमेल करके।

दस बजने में 10 मिनट बाकी था तभी मैसेज आया फेसबुक पर की कितने रूम नम्बर में आने है। रात में ही बता दी थी होटल का नाम और पता बस कमरा नंबर मुझे बाद में बताने थे। मैंने उसको मैसेज भेज दी की 4th फ्लोर पर 412 नंबर कमरा है और ये भी बोल दी सीधे अंदर आ जाना कोई पूछ ताछ नहीं करना। और गेट खुला होगा अंदर आ जाना। इतना लिखते ही मैं तुरंत ही बाथरूम में चली गयी। पहले से प्लान बना ली थी की मैं पहले ही कपडे खोल कर रखूंगी नंगी रहूंगी और उसको मौक़ा ही नहीं दूंगी किन्तु परन्तु करने का।

कामुक और हॉट सेक्स कहानी  मेरी माँ मेरे दोस्त से चुदती हैं और मैं उसको देख कर मूठ मारता हु

ऐसा ही हुआ मैं बाथरूम में थी और वो अंदर आ गया और दरवाजा बंद करते हुए बोला हेलो।

मैं बोली आती हूँ रुको। थोड़ा आवाज चेंज करके वो बेड पर बैठ गया मेरी धड़कन तेज हो गयी थी। डर भी लगने लगा था घबराहट भी होने लगा था। पर अब जो होना था सो होना। मैं बाथरूम का दरवाजा खोलकर बाहर आ गयी। नंगी थी वो देखते ही डर गया बोला मैडम आप। मैं बोली हां मैं। मैं ही फेसबुक पर थी और तू ही रोजाना बात करता था। मुझे पागल बना दिया मैं पागल हो गयी हूँ। मेरी पागलपन को शांत करो और मैं उसके करीब आ गयी। वो बोला नहीं नहीं मैडम ऐसा नहीं होने चाहिए आप मेरी टीचर है।

मैंने कहा इसलिए तो कह रही हूँ आ लग जा मेरे सीने से और शांत कर दे मुझे। उसने बोला ऐसा नहीं कर सकता मैं। पर मैं उसको अपनी बाँहों में भर ली मेरी गदराए बदन को देखकर और मेरी टाइट गोल गोल गोरी चूचियों को देखकर वो भी पिघल गया। और उसने मेरी चूचियों को मसलते हुए बोला। ठीक है मैडम पर ये बात किसी को मत बताना नहीं तो मुझे स्कूल से निकाल दिया जायेगा। तो मैंने कहा मुझे भी यही डर है और ये बात हम दोनों ही जानते हैं। तो हम दोनों ये बात किसी को नहीं बताएँगे।

इतना सुनते ही वो मेरे ऊपर टूट पड़ा। ओह्ह्ह्हह्हह उसकी दोनों हाथ मेरी बूब्स को मसल रहा था। मेरी निप्पल को जब वो ऊँगली से मसलता मैं पागल हो जाती थी मेरे अंदर करंट दौड़ जाता था। वो जब मुझे चूमना शुरू किया ओह्ह्ह्हह्ह। ऐसा लग रहा था वो मेरे होठ को चवा जाएगा। उसने मेरी चूतड़ पर जैसे ही हाथ रखा वो पगला गया उसने मुझे बेड पर लिटा दिया और मेरे टांगो को सहलाते हुए चूत पर हाथ फेरने लगा। मैं अंगड़ाइयां लेने लगी। मेरे होठ सूखने लगे खुद व खुद मैं अपने होठ को अपने दांतो से काटने लगी। मेरे आँख बंद होने लगे। मुँह से सिसकारियां निकलने लगी।

तब तक वो मेरी चूत पर आना जीभ लगा दिया। मैं तुरंत ही अपने चूत से पानी छोड़ दी। गरम गरम पानी निकलना शुरू हो गया था उसमे क्रीम की तरह सफ़ेद सफ़ेद निकलने लगा। वो इसको चाटने लगा। मैं कैसा फील कर रही थी क्या बताऊँ दोस्तों। मजा इसी का नाम है ज़िंदगी इसी का नाम है। मैंने उसके लंड को उसके जांघिया से निकाला और उसको पुरे कपडे उतारने को बोली। वो जब नंगा हुआ उसका मोटा लम्बा लंड फनफना गया। मैं पानी पानी हो गयी उसके लंड और उसके गठीले बदन को देखकर।

मैंने तुरंत ही उसके लंड को चूसना शुरू कर दिया वो मेरी चूचियां दबा रहा था वो अपना ऊँगली मेरी चूत में दे रहा था और मैं उसका लंड चूस रही थी। हम दोनों अब 69 की पोजीसन में आ गए वो मेरी चूत चाट रहा था और मैं उसके लंड को चूस रही थी। वो मेरी गांड के छेद को भी चाट रहा था। मैं पागल हो गयी मैं काफी ज्यादा कामुक हो गयी। मेरी अन्तर्वासना भड़क गयी। मुझसे रहा नहीं गया और मैंने उसको अपनी चूत में लंड घुसाने को बोली।

कामुक और हॉट सेक्स कहानी  मैं अपनी सती सावित्री माँ को चुदते हुए देखा

वो तुरंत ही मेरे दोनों पैरों के बीच बैठ गया। दोनों टांगो को अलग अलग किया अपना लंड सहलाया और फिर चूत की छेद पर रखकर जोर से पेल दिया। पूरा लंड एक ही बार में अंदर चला गया। वो जोर जोर से धक्के देने लगा। मेरी दोनों चूचियां फूटबाल की तरह होने लगी जब वो झटके देता मैं हिल जाती 10 इंच आगे पीछे हो रही थी इतना जोर से वो धक्के दे रहा था इसलिए।

वो मेरी चूचियों को दबोचते हुए जोर जोर से चोदने लगा। मैं उसके बदन को सहलाकर निचे से भी धक्के देने लगी जब मैं निचे से धक्के देती और वो ऊपर से धक्के देता ओह्ह्ह्हह लंड और चूत के बिच करंट पैदा हो रहा था जिससे दोनों के जिस्म में बिजली दौड़ रही थी। उसने मुझे कुतिया बना दिया और मेरी चौड़ी गांड के तरफ से अपने लंड को मेरी चूत में लगाया फिर चूतड़ पर जोर जोर से थप्पड़ मारता और जोर जोर से लंड घुसाता। मुझे ये तरिका पसंद आने लगा। मैं भी जोर जोर से पीछे धक्के देती और हरेक धक्के पर आआआ आआआ ओह्ह्ह्हह्हह ओह्ह्ह्हह्हह आकहहहहहह ओह्ह्ह्हह्ह उफ्फ्फ्फफ्फ्फ्फ़ कर रही थी और वो जोर जोर से धक्के दे रहा थे।

अब वो निचे बैठ गया और मैं ऊपर उसके लंड को पकड़पर चूत के छेद पर रखकर बैठ गई और गोल गोल अपनी गांड घुमाने लगी। वो मेरी चूचियों को मसलते हुए मेरी आँखों में आँखे डाल कर देख रहा था। और मैं भरपूर चुदाई के मजे ले रही थी। एक घंटे तक उसने मुझे जमकर चोदा फिर मैं झड़ गयी पर वो बन्दा का वीर्य नहीं गिरा। मैंने उसके लंड को जल्द जल्दी आगे पीछे करने लगी थूक लगा लगा पर फिर उसका वीर्य गिरा मेरी दोनों बूब्स गीले हो गए थे इतना माल था उसके अंदर।

फिर हम दोनों साथ में नहाये और फिर खाना मंगवाई मैं खाना खाकर हम दोनों एक दूसरे को पकड़पर सो गए। दो घंटे के बाद हम दोनों फिर से एक दूसरे को खुश करने लगे। अब हम दोनों का रिश्ता और भी खाश हो गया ना डर ना रात भर जागना। अब सिर्फ चुदाई की बात होती है।