Home » Antarvasna Sex Stories » चूत में शराब डालकर चोदा दोस्त की बीवी को

चूत में शराब डालकर चोदा दोस्त की बीवी को

Dost ki Wife ki Chudai Sex Kahani : मेरा नाम अक्षय है, मैं नोएडा में रहता हूं मेरी शादी अभी हुई नहीं है इस साल होने वाली है। मैं गायत्री कंपनी में काम करता हूं मेरा दोस्त रजनीश मेरे साथ ही काम करता है उसकी शादी हो गई है। हम दोनों बहुत अच्छे दोस्त हैं। कहीं पर घूमने जाना शॉपिंग करना पार्टी करना सब हम लोग साथ-साथ ही करते हैं। रजनीश की वाइफ एक बैंक में काम करते हैं एमबीए पुणे से की हुई है बहुत हॉट और सेक्सी औरत है। अभी तक उन दोनों को कोई बच्चा नहीं हुआ है शादी को 6 महीने ही हुए हैं। रजनीश के बीवी का नाम सेफाली है। भगवान ने फुर्सत में बनाया भाभी को, पति पत्नी के आधे झगड़े तो मैं ही सुलझाता हूँ। हम दोनों एक ही अपार्टमेंट में रहते हैं और यहां तक कि एक ही टावर में रहते हैं। हम दोनों ने ही फ्लैट खरीदे हुए हैं। मेरे हाथों में अकेला ही रहता हूं। और वह दोनों पति पत्नी रहते हैं।

आज कल की दुनिया बहुत आगे बढ़ चुकी है। पहले की बात कुछ और थी आजकल की बात कुछ और है पहले लोग घर चलाने पर ज्यादा ध्यान देते थे अपने परिवार पर ज्यादा ध्यान देते थे। आजकल लोग पार्टी मनाना घूमना फिरना शॉपिंग करना जिंदगी का एक हिस्सा हो गया है। लो काफी ज्यादा खून भी चुके हैं लाज शर्म बहुत कम हो गया है आजकल धारावाहिक या नेटफ्लिक्स या अमेजन प्राइम हॉट स्टार पर ऐसे से सीरियल्स आते हैं जिससे हमारा समाज हमारा परिवार काफी अलग होते हैं। यह बात तो आपको भी पता है कि मुझे समझाने की जरूरत ही नहीं है।

मैं सीधे कहानी पर ही आ जाना पसंद करूंगा। क्योंकि मैं भी उत्साहित हूं अपने लिए सेक्स कहानी आपको सुनाने के लिए। नॉनवेज story.com मेरा फेवरेट वेबसाइट है जहां पर रोजाना आकर में एक से बढ़कर एक देसी सेक्स कहानी परिवारिक सेक्स पढता हूँ। रजनीश और शेफाली भाभी भी इस वेबसाइट के काफी बड़ी फैन है। आपको यह जानकर हैरानी होगी उन लोगों ने ही मुझे बताया इस वेबसाइट के बारे में राज में उन्हीं की कहानियां इस वेबसाइट पर लिख रहा हूं। क्योंकि मैं भी आप लोगों की सेक्स कहानी पढ़ता हूं तो मेरा भी फर्ज बनता है कि आपको भी अपनी कहानी जो अभी-अभी मात्र परसों की है वह आपको बताऊं कि क्या कैसे हुआ था।

गरमा गर्म सेक्स कहानी  Dost ke saath maa ko choda, दोस्त के साथ मा की चुदाई

शनिवार शाम को मैंने और रजनीश ने प्लान बनाया कि आज मेरे घर पर ही पार्टी होगा। भाभी को पार्टी करना बहुत ज्यादा पसंद है तो उनको जैसे ही मैंने खबर दिया कि भाभी आज रात हम लोग पार्टी बनाएंगे तो वह बहुत ज्यादा खुश हो गई। शाम को हम लोगों ने पार्टी का अरेंजमेंट कर लिया था अच्छी ब्रांड का 2 बोतल शराब लेकर आए। चिकन हम लोगों ने पहले ही ऑर्डर कर दिया था ताकि ग्रिल्ड चिकन हम लोग को दे जाए। समय पर चिकन भी आ गया तंदूरी। हम लोग 8:00 बजे रात को स्टार्ट हुए पार्टी करने के लिए। 10:00 बजे तक धीरे-धीरे करके हम लोगों ने एक बड़ा बोतल खत्म कर दिया।

हम तीनों ही नशे में आ चुके थे। पर दूसरा बोतल भी अभी पूरा भरा हुआ था। बातचीत शुरू हुई तो समय का पता भी नहीं चला इसी बीच रजनीश ने दो पैग ज्यादा ले लिया। रजनीश वही सोफे पर अचेत होकर लेट गया। उसको उठाने की कोशिश की तो उठ ही नहीं रहा था हम दोनों भी काफी ज्यादा शराब पी रहे थे। भाभी बोली अब क्या करोगे अक्षय जी। रजनीश तो अब उठेगा नहीं अब तो सुबह उठेगा। और मैं भी काफी ज्यादा पी ली हूं। तो मुझे तो बस लग रहा है कि कहीं पर भी लेट जाऊं।

मैंने कहा कहीं पर क्यों आप बेड पर लेट जाओ। उन्होंने कहा क्यों बेड पर सुला रहे हो मुझे कुछ गलत इरादा तो नहीं है। मैंने कहा गलत तो रोज रहता है लेकिन करूं क्या मेरे नसीब में ही नहीं है गलत करने का। शेफाली भाभी बोली चलो हम दोनों एक एक पैग और पीते हैं। हमने प्यार से बनाया और उनको पिलाया और मैं खुद पिया। उनके कपड़े अस्त-व्यस्त हो चुके थे उनकी बड़ी-बड़ी चूचियां बाहर निकल रही थी। टांगों को फैला कर बैठे हुए थे। दोनों जांघों के बीच में चूत कैसा है वह साफ दिखाई दे रहा था। यहीं से मेरा मन खराब हो गया। मैंने उसी समय बोल दिया भाभी आप बहुत सेक्सी हो।

वह बोली आप भी हॉट सेक्सी हो। यह बताओ आपने ऐसा मुझ में क्या देखा कि मैं होट सेक्सी लग रही हूं। मैंने कहा दोनों टांगों के बीच में गुफा है वह मैं यहां से देख पा रहा हूं। भाभी झांक कर देखिए और बोली अच्छा तो तुम झांक रहे हो। जैसे वह झूठी झांकने के लिए वैसे उनकी दोनों बड़ी बड़ी चूची दिखाई देने लगी। मैंने कहा भाभी अब तो आपके दोनों गोल-गोल भी साफ साफ मुझे दिखाई दे रहा है। मेरा दोस्त रजनी पर लेटा हुआ था इतना ज्यादा वह पी लिया था और नींद में था उसको कुछ भी नहीं पता था।

गरमा गर्म सेक्स कहानी  बस में मिली चुदक्कड़ और बहूत ही सेक्सी औरत की खूब चुदाई की

भाभी बाथरूम जाना है और वह जाने लगे, पर वह सही से चल नहीं पा रही थी। मैंने उनको सहारा दिया और उनको बाथरूम ले गया वह अपना पेंट और जामिया खोलकर पेशाब करने लगी। बड़ी चौड़ी गांड मेरे सामने ही खोलकर वह बैठ गई थी। यह देखकर मेरे से रहा नहीं गया और मैंने पीछे से उनकी दोनों बड़ी बड़ी चूचियों को पकड़ लिया। कंधे के पीछे से उनके गाल को चूमने लगा वह उस समय पेशाब ही कर रही थी। उन्होंने कहा रुक जाओ पेशाब तो करने दो पेशाब करते करते चोदोगे क्या।

वह उठकर खड़ा हुई कि मैंने उनको अपनी बाहों में जकड़ लिया और उनके होंठ को चूमने लगा। उनके बूब्स को दबाने लगा। हम दोनों ही लड़खड़ा रहे थे किसी तरीके से हम दोनों बेड पर आ गए। मैंने उनके सारे कपड़े उतार दिए। दोनों टांगों को अलग-अलग करके मैं उनकी चूत को चाटने लगा। शेफाली भाभी बोली रजनीश तो इसमें दारू डालकर चाटता है। चूत की पानी और दारु जब साथ मिल जाए तो चूत का मजा ही कुछ और है। आप चाहे तो ट्राई कर लो। मैं तुरंत ही भागकर दारू की बोतल आया और भाभी की चूत में दारू डालकर चाटने लगा। जैसे अपना जीभ लगाया भाभी सिसकारियां लेने लगी। अंगड़ाइयां लेने लगी, मेरा लंड लंबा होने लगा।

मैं भाभी की चूत में दारू डालकर चाटने लगा। उनकी चूचियों को मसलने लगा उनके निप्पल को दोनों हाथों से दबाने लगा। उनके होंठ को चूमने लगा उनके बालों को सहलाने लगा और उनकी चूत को दारू दाल डालकर पीने लगा। 10 मिनट में भाभी ऐसे पागल हो गई कि क्या बताऊं। उन्होंने कहा मुझे बर्दाश्त नहीं हो रहा है जल्दी से मुझे चोद दो। मैंने भाभी के दोनों टांगों को अपने दोनों कंधे पर रखा अपना मोटा लंड उनकी चूत के छेद पर रखकर जोर से अंदर घुसा दिया। भाभी की चीख निकल गई। उन्होंने कहा इतना मोटा लंड रजनीश का तो बहुत छोटा है आपका तो बहुत मोटा और लंबा है। आज तो मैं बहुत मजे करूंगी मुझे मोटा लंड बहुत पसंद है।

गरमा गर्म सेक्स कहानी  ट्रैन में चुदाई : वो ट्रैन की चुदाई कभी भी नहीं भूलूंगी

मैं जोर-जोर से उनको चोदने लगा उनकी चुचियों को दबाने लगा और भाभी गांड गोल गोल घुमा घुमा कर मेरे मोटे लंड को अपने चूत के अंदर ले रही थी। वह कई बार जोर जोर से धक्के देने लगती थी क्योंकि वह जोर से भर गई थी। उनकी दोनों चूचियां को मैं दबोच रहा था उनके होंठ को चूम रहा था उनके जीभ को चाट रहा था। बीच-बीच में चूतड़ के अंदर हाथ डाल कर उनके गांड में उंगली कर देता था। जिसे भाभी और भी ज्यादा कामुक हो जाती थी। फिर वह घोड़ी बन गई और मुझे पीछे से चोदने के लिए बोली मैं पीछे से धक्के देने देने लगा। उनकी दोनों चूचियां आगे पीछे हो रही थी जब मैं पीछे की तरफ से मैं उनको चोद रहा था।

फिर मैं लेट गया भाभी मेरे ऊपर चढ़ गई और अमेजन स्टाइल में वह मुझे चोदने लगी। जबरदस्त तरीके से वह धमकी दे रही थी। 45 मिनट की चुदाई में हम दोनों ही शांत हो गए फिर एक दूसरे को चूमते हुए अलग अलग कमरे में सोने चले गए। क्योंकि यह डर था कि कभी भी रजनीश उठ सकता था। सुबह जब नींद खुली तो रजनीश वह सोफे पर ही सो रहा था मैंने उसके ऊपर एक कंबल डाल दिया था। भाभी को जाकर जगाया और बाहों में भर कर उनको चूमने लगा। भाभी मुझे अपनी बाहों में लेकर चूमने लगी। मैंने तुरंत ही अपना लंड निकाल कर फिर से एक बार उनके चूत में डाला और 10 से 15 झटके में ही अपना सारा माल उनके अंदर छोड़ दिया। फिर मैं चाय बनाने चला गया आधे घंटे बाद का दिन था ऐसे भी छुट्टी थी हम लोगों की।

पर दोस्तों यादगार हो गया मेरे लिए चूत में शराब डालकर चुदाई करना और चूत को चाटने जबरदस्त है। नॉनवेज story.com के सभी पाठकों को फिर से एक बार में नमस्कार कहता हूं और दूसरी कहानी जल्द ही लाने की कोशिश करूंगा।

Comments are closed.